इरफान को याद कर इमोशनल हुईं सुतापा, कहा- ‘बारिश में जब गिरती है बुक, तो लगता है वो पास है…’

इरफान खान (Irrfan Khan) आज हमारे साथ नहीं हैं. इरफान को इस दुनिया से गए हुए 2 साल हो चुके हैं. इरफान आज भले ही इस दुनिया में नहीं है, लेकिन उनकी पत्नी सुतापा सिकंदर की यादों में वो हमेशा जिंदा रहेंगे. उनकी पत्नी सुतापा सिकंदर अक्सर सोशल मीडिया पर इरफान खान को याद कर इमोशनल पोस्ट साझा करती रहती हैं. अब सुतापा ने मीडिया से बात करते हुए इरफान खान के साथ बिताए लम्हों को याद किया.

  |     |     |     |   Updated 
इरफान को याद कर इमोशनल हुईं सुतापा, कहा- ‘बारिश में जब गिरती है बुक, तो लगता है वो पास है…’

बॉलीवुड के शानदार अभिनेताओं में से एक इरफान खान (Irrfan Khan) आज हमारे साथ नहीं हैं. इरफान को इस दुनिया से गए हुए 2 साल हो चुके हैं. इरफान आज भले ही इस दुनिया में नहीं है, लेकिन उनकी पत्नी सुतापा सिकंदर (Sutapa Sikdar) की यादों में वो हमेशा जिंदा रहेंगे. उनकी पत्नी सुतापा सिकंदर अक्सर सोशल मीडिया पर इरफान खान को याद कर इमोशनल पोस्ट साझा करती रहती हैं. अब सुतापा ने मीडिया से बात करते हुए इरफान खान के साथ बिताए लम्हों को याद किया.

सुतापा सिकंदर (Sutapa Sikdar) बताती हैं कि वो उस समय गहरे अवसाद से पीड़ित थीं, और साथ ही घबराहट की भावना भी थी. मेरे परिवार में कभी भी कैंसर का मरीज नहीं था, इसलिए ये मेरे लिए बहुत नया था. मैंने कभी नहीं सोचा था कि इरफान (Irrfan Khan) का अंत इस तरह होगा.

सुतापा (Sutapa Sikdar) उस वक्त को याद करते हुए इमोशनल हो जाती हैं और कहती हैं, इरफान (Irrfan Khan) कीमोथेरेपी कराना नहीं चाहते थे, वो सिर्फ आर्गेनिक खाना खाते थे, वो अक्सर डॉक्टर्स और एक्सपर्ट से बीमारी को लेकर बातें किया करते थे. उस वक्त घर में काफी तनाव का माहौल था, हम कई बीती कई रातों से सो नहीं पाए थे, मैं उस दौरान हर समय इरफान के साथ रहती थी. मैं उनके सामने हमेशा मजबूत बने रहने की कोशिश करती रही.

सुतापा आगे बताती हैं कि इरफान और मैं दोनों एक दूसरे से बिल्कुल अलग थे, इरफान एक नाइट पर्सन थे और मैं डे.., इसलिए अपने काम की वजह से हम दोनों अक्सर अलग-अलग कमरों में सोते थे, लेकिन आखिर के 2 साल हम दोनों की जिंदगी एकदम बदल गई. उन दो सालों में हम एक ही बेड पर सोए. इस दौरान उन्होंने पहली बार कहा कि वो मुझे प्यार करते हैं, वो काफी दर्द में थे.

उस वक्त को याद कर सुतापा (Sutapa Sikdar) बहुत भावुक हो गईं. वो कहती हैं इरफान भले ही आज इस दुनिया में नहीं हैं, लेकिन मुझे पता है कि वो आसपास ही हैं, खासतौर पर रात में, अगर बारिश होती है और उसकी कोई किताब गिर जाती है, तो मुझे लगता है कि वो मेरे करीब है.

सुतापा, इरफान के आखिरी दिन को याद करते हुए कहती हैं, इरफान (Irrfan Khan) मेरे बिना इन दो सालों में कहीं नहीं गए थे, उस दिन वो अस्पताल यह कहकर गए थे कि तुम्हें आराम की जरूरत है मैं अकेले चला जाता हूं, लेकिन उस दिन अकेले जाने के बाद वो कभी वापस नहीं आए.

भारतीय और अंतरराष्ट्रीय सिनेमा में अपने बहुमुखी काम के लिए जाने जाने वाले, इरफान (Irrfan Khan) का 29 अप्रैल, 2020 को कैंसर से लंबी लड़ाई लड़ने के बाद निधन हो गया. उनके परिवार में सुतापा और उनके दो बच्चे अयान और बाबिल हैं. बाबिल जल्द ही नेटफ्लिक्स फीचर काला के साथ हिंदी फिल्म में डेब्यू करने जा रहे हैं.

‘हर हर शंभू’ शिव भजन गाने पर फरमानी नाज पर भड़के मुस्लिम कट्टरपंथी, जानें कौन हैं सिंगर?

बॉलीवुड और टीवी की अन्य खबरों के लिए क्लिक करें:

Exclusive News, TV News और Bhojpuri News in Hindi के लिए देखें HindiRush । देश और दुन‍िया की सभी खबरों की ताजा अपडेट के ल‍िए जुड़िए हमारे FACEBOOK पेज से ।

Story Author: lakhantiwari



    +91 9004241611
601, ड्यूरोलाइट हाउस, न्यू लिंक रोड, अंधेरी वेस्ट,मुंबई, महाराष्ट्र, इंडिया- 400053
    Tags:

    Leave a Reply