वीर योद्धा तानाजी मालुसरे के इन 12 खासियत पर मर मिटे अजय देवगन, इसलिए इस कहानी को चुनी करियर की 100 वीं फिल्म

अजय देवगन (Ajay Devgan), सैफ अली खान (Saif Ali Khan) और काजोल (Kajol) की फिल्म 'तानाजी: द अनसंग वॉरियर' (Tanhaji: The Unsung Warrior trailer) का ट्रेलर रिलीज हो चूका है। यह फिल्म मराठा योद्धा 'तानाजी मालुसरे' (Tanaji Malusare) की जिंदगी पर बेस्ड है।क्या आप जानते है 'तानाजी मालुसरे' के जिंदगी के ये किस्से? आइए पढ़ते है आखिर क्यों बॉलीवुड एक्टर अजय देवगन 'तानाजी' के योद्धाओं के किस्से पर फिल्म बनाने को मजबूर हो गए?

Author   |     |     |     |   Updated 
वीर योद्धा तानाजी मालुसरे के इन 12 खासियत पर मर मिटे अजय देवगन, इसलिए इस कहानी को चुनी करियर की 100 वीं फिल्म
योद्धा तानाजी मालुसुरे और फिल्म तानाजी: द अनसंग वॉरियर की तस्वीर (फोटो : इंस्टाग्राम)

अजय देवगन (Ajay Devgan), सैफ अली खान (Saif Ali Khan) और काजोल (Kajol) की फिल्म ‘तानाजी: द अनसंग वॉरियर’ (Tanhaji: The Unsung Warrior’ trailer) का ट्रेलर रिलीज हो चूका है। यह फिल्म मराठा योद्धा ‘तानाजी मालुसरे’ (Tanaji Malusare) की जिंदगी पर बेस्ड है। साथ ही साथ इस फिल्म के जरिए अजय देवगन ने अपने करियर की 100 फ़िल्में पूरी कर ली है। फिल्म के ट्रेलर को अच्छा रिस्पांस मिल रहा है।

सोशल मीडिया पर यूजर्स तानाजी की खूब तरफ कर रहे है। उनके कमेंट्स से पता लगाया जा सकता है कि वे इस फिल्म की रिलीजिंग के लिए कितने एक्साइटेड है। फिल्म में ‘अजय देवगन’ ‘तानाजी’ का रोल प्ले कर रहे है वहीं उदयभान राठौड़ का किरदार निभाया है सैफ अली खान ने।

खैर, ये तो हुई फिल्म की बात पर क्या आप जानते है ‘तानाजी मालुसरे’ के जिंदगी के ये किस्से? आइए पढ़ते है आखिर क्यों बॉलीवुड एक्टर अजय देवगन ‘तानाजी’ के योद्धाओं के किस्से पर फिल्म बनाने को मजबूर हो गए?

पढ़ें तानाजी मालसुरे की 12 खासियत 

1) तानाजी का जन्म महाराष्ट्र में सतारा के गडोली शहर के एक कोली परिवार में हुआ था।

2) मराठा योद्धा शिवाजी को जानने वाले शायद ही ये जानते होंगे कि तानाजी उनके बेहद करीब दोस्त में से एक थे। वे दोनों बचपन के साथी थे और उनके साथ हर लड़ाई में शामिल होते थे। शिवाजी की तरह वे खुद भी उतने ही बहादुर और जांबाज था।

3) 1670 में हुई सिंहगढ़ की लड़ाई उनकी वीरता की कहानी को दर्शाती है

4) एक बार वे शिवाजी के साथ औरंगजेब से मिलने दिल्ली जाते है तो औरंगजेब उन दोनों को बंदी बना लेते है। तब शिवाजी और तानाजी मिठाई के पिटारे में छिपकर वहां से भाग निकले थे।

5) जब शिवाजी की माता ने ‘कोंडाना’ किले को जीतने की इच्छा अपने बेटे शिवाजी के सामने रखी। इस पर शिवाजी ने अपनी माँ के दिल की इच्छा पूरी करने के लिए सभी सैनिकों को राजसभा में बुलाया और पूछा कि कोंडाना किला को जीतने के लिए कौन जायेगा? वहां मौजूद कोई भी ये साहस ना कर पाया पर तानाजी ने ये चुनौती स्वीकार की और बोले, “मैं जीतकर लाऊंगा कोंडाना किला”।

6) तानाजी दिमाग से तो तेज़ थे ही बल्कि शरीर से भी उतने ही हट्टे-कट्टे और शक्तिशाली थे।

8) ‘सिंहगढ़ की लड़ाई’ में तानाजी को नेतृत्व का काम सौंपा गया। वे अपने काम को लेकर इतने दढ़ थे की उन्होंने अपने ने पुत्र का विवाह छोड़ दिया।

9) आपको बता दें कि उस समय ‘उदयभान राठौड़’ जैसा भयंकर योद्धा किले का बचाव कर रहा था। उनसे टक्कर लेना शेर की गुफा में जाने जैसा था। लेकिन ताना जी ने इसकी बिलकुल भी परवाह ना करते हुए किले की तरफ कूच किया।

10) तानाजी की बुद्धि का अंदाजा हम इस बात से लगा सकते है जब उन्होंने युद्ध के वक्त पहाड़ पर चढ़ने के लिए यशवंती नाम की छिपकली का इस्तेमाल किया। यह ये छिपकली एक मॉनिटर छिपकली थी और जानवरों पर नज़र रखती थी। उन्होंने इस मॉनिटर छिपकली को रस्सियों से बांध दिया और फिर इसे किले की दीवारों का पैमाना बना दिया। एक बार जब यह शीर्ष पर पहुंच गया, तब तानाजी ने अपने आदमियों को छिपकली से झूलने वाली रस्सियों का उपयोग करके किले की दीवार पर चढ़ने की आज्ञा दी। इस रणनीति का उपयोग करते हुए, तानाजी और उनके 300 लोगों ने किले के दक्षिण की ओर पैमाना बनाया। इस तरह से उन्होंने पहाड़ पर चढ़ने में सफलता हासिल की।

11) यह कहा जाता है कि तानाजी की दुश्मन जनरल उदयभान राठौड़ के खिलाफ एक महान लड़ाई थी। वे किले को अंत में जीत तो लेते है पर गंभीर रूप से घायल हो जाते है। युद्ध को दौरान वे वीरगति को प्राप्त हो जाते है।

12) उनकी याद में कोंढाणा दुर्ग का नाम बदलकर सिंहगढ़ कर दिया गया है। पुणे नगर के ‘वाकडेवाडी’ नामक भाग का नाम बदलकर ‘नरबीर तानाजी वाडी’ कर दिया गया है। इसके इलावा तानाजी के अनेकों स्मारक हैं।

हिंदी रश के साथ नवाजुद्दीन सिद्दीकी की खास बातचीत पर डाले नज़र

 

Exclusive News, TV News और Bhojpuri News in Hindi के लिए देखें HindiRush । देश और दुन‍िया की सभी खबरों की ताजा अपडेट के ल‍िए जुड़िए हमारे FACEBOOK पेज से ।

Story Author: Tanya Verma

Tanya Verma


    +91 9004241611
601, ड्यूरोलाइट हाउस, न्यू लिंक रोड, अंधेरी वेस्ट,मुंबई, महाराष्ट्र, इंडिया- 400053
    Tags: , , , , , , , ,

    Leave a Reply