Happy Birthday Shabana Azmi: शबाना आजमी ने जब पर्दे पर निभाया लेस्बियन का रोल तो मच गया था हंगामा

शबाना आजमी (Shabana Azmi) आज अपना 72वां जन्मदिन मना रही हैं. 18 सितंबर 1950 को हैदराबाद में जन्मी शबाना मशहूर शायर कैफी आजमी (Kaifi Azmi) और शौकत कैफी की बेटी हैं.

  |     |     |     |   Updated 
Happy Birthday Shabana Azmi: शबाना आजमी ने जब पर्दे पर निभाया लेस्बियन का रोल तो मच गया था हंगामा

Happy Birthday Shabana Azmi: बॉलीवुड फिल्म इंडस्ट्री की सबसे बेहतरीन एक्ट्रेसेस में से एक शबाना आजमी (Shabana Azmi) आज अपना 72वां जन्मदिन मना रही हैं. 18 सितंबर 1950 को हैदराबाद में जन्मी शबाना मशहूर शायर कैफी आजमी (Kaifi Azmi) और शौकत कैफी की बेटी हैं. शबाना आजमी का फिल्मी करियर काफी शानदार रहा है. आज जन्मदिन के मौके पर जानते हैं शबाना आजमी की उन विवादित फिल्मों के बारे में जो रिलीज से पहले ही बैन कर दी गईं.

शबाना आजमी (Shabana Azmi) ने अपने अब तक के करियर में कमर्शियल सिनेमा से हटकर शानदार फिल्में की और सभी रोल के लिए उन्हें अवार्ड भी मिले. 26 साल पहले आई शबाना आजमी की फिल्म ‘फायर’ आज भी चर्चा में रहती है. ये वो फिल्म है जो देश में आज तक बैन है. दर्शक इसे यूट्यूब पर देख सकते हैं. यह भी पढ़े: Bigg Boss 16 Unknown Facts: ‘बिग बॉस’ हाउस को 500 वर्कर्स ने बनाया, इतने महीनों में हुआ तैयार

शबाना आजमी (Shabana Azmi) ने साल 1996 में दीपा मेहता की फिल्म ‘फायर’ से काफी सुर्खियां तो बटोरी लेकिन उनकी आलोचना भी जमकर हुई. फिल्म में उनके साथ नंदिता दास, कुलभूषण खरबंदा और जावेद जाफरी भी मुख्य भूमिका में थे. इस फिल्म में नंदिता दास और शबाना आजमी के बीच परदे पर भारत सिनेमा में र समलैंगिक रिश्ते को दिखाया गया था.

‘फायर’ में शबाना आजमी और नंदिता दास (Nandita Das) के बीच एक लिप लॉक सीन भी फिल्माया गया था जिसको लेकर काफी विवाद हुआ. इस फिल्म को कई संगठनों के आक्रोश का सामना करना पड़ा था.

शबाना आजमी की फिल्म ‘वॉटर’ के लिए भी विवादों का सामना करना पड़ा था. फिल्म में शबाना आजमी ने एक ऐसा किरदार निभाया है जिसमें वो अपने किरदार को जीने के लिए एक बड़ा और कड़ा फैसला करती हैं. इस फिल्म में अपने किरदार के लिए उन्होंने अपनी खूबसूरती तक को दांव पर लगा दिया था. दरअसल, विधवाओं के जीवन पर आधारित इस फिल्म के लिए शबाना ने सच में अपना सिर तक मुंडवा लिया था. हालांकि, भारी विवाद के चलते सेंसर बोर्ड ने फिल्म पर बैन लगा दिया था.

साल 1983 में आई शबाना आजमी की बंगाली फिल्म मंडी को भी लेकर विवाद देखने को मिला. फिल्म में शबाना एक वेश्यालय चलाने वाली महिला की भूमिका में नजर आई थीं. ये फिल्म राजनीतिक व्यंग्य पाकिस्तानी लेखक गुलाम अब्बास की एक छोटी उर्दू कहानी आनंदी पर आधारित थी.

यह भी पढ़े: Dream Girl 2: अनन्या पांडे को आयुष्मान खुराना की ड्रीम गर्ल बनते देख फूटा जनता का गुस्सा, कहा-‘फिल्म का होगा सत्यानाश’

बॉलीवुड और टीवी की अन्य खबरों के लिए क्लिक करें: 

Exclusive News, TV News और Bhojpuri News in Hindi के लिए देखें HindiRush । देश और दुन‍िया की सभी खबरों की ताजा अपडेट के ल‍िए जुड़िए हमारे FACEBOOK पेज से ।

Story Author: lakhantiwari



    +91 9004241611
601, ड्यूरोलाइट हाउस, न्यू लिंक रोड, अंधेरी वेस्ट,मुंबई, महाराष्ट्र, इंडिया- 400053
    Tags:

    Leave a Reply