कोरोना से संक्रमित लोगों की मेंटल हेल्थ पर पड़ता है असर!, अमिताभ बच्चन ने सुनाई आपबीती

अमिताभ (Amitabh Bachchan) ने कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजों के मानसिक स्वास्थ्य पर कोरोनावायरस के खतरनाक प्रभावों के बारे में बातचीत की है।

  |     |     |     |   Updated 
कोरोना से संक्रमित लोगों की मेंटल हेल्थ पर पड़ता है असर!, अमिताभ बच्चन ने सुनाई आपबीती
अमिताभ बच्चन की फोटो (तस्वीर: इंस्टाग्राम)

बॉलीवुड के महानायक अमिताभ बच्चन (Amitabh Bachchan) इस समय मुंबई के नानावटी अस्पताल में भर्ती हैं और कोरोना का इलाज़ करा रहे हैं। इस दौरान अमिताभ बच्चन सोशल मीडिया के माध्यम से लगातार अपने फैंस के साथ जुड़े हुए हैं। हाल ही में अमिताभ ने कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजों के मानसिक स्वास्थ्य पर कोरोनावायरस के खतरनाक प्रभावों के बारे में बातचीत की है।

अमिताभ वैसे तो किसी के संपर्क में नहीं हैं, लेकिन सोशल मीडिया के माध्यम से वह लगातार लोगों के साथ जुड़े हुए हैं। इस बार अमिताभ ने अपने ब्लॉग में अस्पताल के अनुभव के बारे में बताया है। उन्होंने लिखा “रात के घने अंधेर में और एक ठंडे कमरे में, मैं गाता हूं। सोने की कोशिश में आंखें बंद करता हूं। आपके पास कोई नहीं होता। कोरोना वायरस से पीड़ित मरीज की मानसिक स्थिति स्पष्ट दिखती है। अस्पताल में आइसोलेशन में रखा गया है।”

इसी के साथ ही अमिताभ ने अपने ब्लॉग में बताया है कि “कई हफ्तों से किसी बाहरी व्यक्ति को नहीं देखा है। नर्स और डॉक्टर होते हैं, लेकिन वे हमेशा पीपीई यूनिट में दिखते हैं। आपको कभी पता नहीं चलता कि वे कौन हैं, उनकी बनावट और भाव कैसे हैं, क्योंकि वे हमेशा प्रोटेक्शन यूनिट में कवर रहते हैं। सब सफेद हैं। उनकी मौजूदगी लगभग रॉबोटिक है। जो दवाइयां खाने के लिए दी जाती हैं, बस वहीं देने आते हैं और चले जाते हैं। चले इसलिए जाते हैं, क्योंकि कहीं संक्रमण उन्हें न हो जाए। जिन डॉक्टर्स की निगरानी में इलाज चल रहा है वे भी आपके पास नहीं होते हैं। वे मरीजों से वीडियो कॉल के जरिए बात करते हैं। अभी के हालात के लिए यही सबसे उचित है।

अमिताभ आगे कहते हैं कि क्या इसका असर मानसिक स्वास्थ्य पर पड़ता है। साइकोलॉजिस्ट के अनुसार इसका असर जरूर होता है। यहां से निकलने के बाद भी मरीज डरे हुए रहते हैं। वे सार्वजनिक स्थानों पर जाने से डरते हैं। उन्हें डर लगता है कि लोग उनके साथ अलग तरह से व्यवहार करेंगे। ऐसे व्यवहार करेंगे जैसे आप वो बीमारी लेकर चल रहे हैं। इसे परियाह सिंड्रोम (छुआछूत का डर) कहते हैं। इससे लोग डिप्रेशन और अकेलेपन में जा रहे हैं।

इससे पहले अमिताभ बच्चन ने अपने चाहने वालों को धन्यवाद व्यक्त किया था। बता दें हजारों लोग अमिताभ के स्वस्थ होने की प्रार्थना कर रहे हैं। अमिताभ के साथ अभिषेक, ऐश्वर्या राय बच्चन और आराध्या भी कोरोना पॉजिटिव पाई गई हैं। अभी सभी लोग अपना इलाज़ करा रहे हैं।

‘नेपोटिज्म’ पर कंगना रनौत के बेबाक अंदाज से इंप्रेस हुए सोनू निगम, कहा- ‘बहुत सम्मान करता हूं’

हिंदी रश की ताजा वीडियो यहाँ देखें:

Exclusive News, TV News और Bhojpuri News in Hindi के लिए देखें HindiRush । देश और दुन‍िया की सभी खबरों की ताजा अपडेट के ल‍िए जुड़िए हमारे FACEBOOK पेज से ।

Story Author: lakhantiwari



    +91 9004241611
601, ड्यूरोलाइट हाउस, न्यू लिंक रोड, अंधेरी वेस्ट,मुंबई, महाराष्ट्र, इंडिया- 400053
    Tags: , ,

    Leave a Reply