Pitru Paksha 2022 : पितृपक्ष में आपसे नाराज हैं या प्रसन्‍न हैं पितर, इन संकेतों से जान सकते है आप

अगर आप श्राद्ध नहीं करते हैं तो आपके पूर्वज आपसे नाराज हो जाते हैं और आपको पितृ दोष का भी सामना करना पड़ता है। कुछ ऐसे संकेत होते हैं जिनसे यह पता चलता है कि पितर आपसे नाराज हैं या प्रसन्‍न। आइए देखते हैं क्‍या हैं ये संकेत।

  |     |     |     |   Updated 
Pitru Paksha 2022 : पितृपक्ष में आपसे नाराज हैं या प्रसन्‍न हैं पितर, इन संकेतों से जान सकते है आप

पितृपक्ष इस साल 10 सितंबर 2022 से शुरू हो चुके हैं. हर कोई चाहता है कि हर साल पितर खुश होकर जाए. पितर अगर खुश होते हैं तो अपने परिवार को खूब आशीर्वाद देकर जाते हैं. पितर अगर प्रसन्न हो तो जीवन में सुख-शांति आती है और अगर नाराज तो सिर्फ दुख ही दुख आते हैं. ऐसी मान्‍यता है कि पितृपक्ष में हमारे पूर्वज धरती पर आकर हमारे बीच में रहते हैं और हमारे आचार, व्‍यवहार और कर्मों को देखते हैं. इस दौरान वे हमें कुछ ऐसे संकेत देते हैं, जिनसे यह पता चलता है कि पितृ गण हमसे नाराज हैं या प्रसन्‍न. आइए जानते हैं क्‍या हैं ये संकेत.

 कौआ चोंच में तिनका लाए 

पितृपक्ष के दौरान अगर कौआ घर की छत पर बैठे दिखाई देता है या फिर कौआ चोंच में तिनका लाता हुआ दिखाई दे तो ये उनकी प्रसन्नता का संकेत माना जाता है.  इस संकेत का मतलब होता है कि जल्द ही आपको धन लाभ होने वाला है. 

कौआ आपके हाथ से भोजन करें 

अगर पितृपक्ष के दौरान कौआ आपके हाथ से भोजन कर ले तो वो भी शुभ माना जाता है. कहते हैं ऐसा तब होता है जब आपके पितर प्रसन्न होते हैं. 

गाय और कौआ साथ में दिखें 

ऐसा कहा जाता है कि अगर गाय और कौवे एक साथ नजर आ जाते हैं पितृपक्ष के दौरान तो ये भी खुशी का ही संकेत होता है. 

सपने में पितरों को हंसते हुए देखें 

कभी-कभी कुछ लोगों को पितृपक्ष के दौरान उनके पितर दिखाई देते हैं ऐसी मान्यता है कि सपने में अपने पितरों को हंसते और खुशहाल अवस्था में देखना भी एक अच्छा संकेत होता है. अगर आपको भी दिखे तो इसका मतलब है कि घर में सुख-समृद्धि में वृद्धि होगी. ये भी पढ़े : Pitru Paksha 2022: पितृपक्ष के दौरान इन चीजों को खाने से करें खास परहेज, क्योंकि नाराज़ हो जाते हैं पितृ

संतान से जुड़ी समस्या 

यदि आपके पितृ आपसे नाराज हैं तो ऐसे में आपको संतान से जुड़ी कई दिक्कतों का सामना करना पड़ता है. जैसे संतान पैदा होने में बाधा आना, पैदा होने के बाद भी जीवित न रहना और संतान का हमेशा बीमार रहना।ऐसी मान्यता है कि ये सब संकेत बताते हैं कि आपके पितृ आपसे नाराज हैं.  

शादी में रही हैं परेशानियां 

जिस घर में लोगों के ऊपर पितर नाराज रहते हैं उस घर के बच्‍चों के विवाह में अड़चनें आती हैं. कई बार रिश्ता बनते-बनते टूट जाता है तो कुछ रिश्ते बनने के बाद टूट जाते हैं. ऐसे लोगों को अपने घर में पितरों को खुश करने के लिए श्राद्ध अच्छे से और नियमपूर्वक करवाना चाहिए.

घर में होते हैं झगड़े 

ऐसा कहा जाता है कि जिस घर में आए दिन क्लेश होते रहते हैं, शांति नहीं रहती. उस घर में भी पितर खुश नहीं होते हैं. 

धन की कमी 

जिस घर में अक्सर आर्थिक तंगी बनी रहती है और पैसे पानी की तरह बह जाते हैं, समझ लीजिए कि उस घर में पितर नाराज हैं. ये सभी संकेत पितृ दोष के माने जाते हैं. 

घर में कोई रहे बीमार 

अगर आपके परिवार में कोई बार-बार बीमार पड़ता रहता है. तो आपको यह समझने की जरूरत है कि ऐसा क्यों हो रहा है. इसकी एक वजह पितरों की नाराजगी भी हो सकती है.

ये भी पढ़े :  Hindi Diwas 2022: हिंदी दिवस पर जाने इससे जुड़ी कुछ दिलचस्प और गर्व महसूस करवा देने वाली बाते

बॉलीवुड और टीवी की अन्य खबरों के लिए क्लिक करें:

 

 

 

Exclusive News, TV News और Bhojpuri News in Hindi के लिए देखें HindiRush । देश और दुन‍िया की सभी खबरों की ताजा अपडेट के ल‍िए जुड़िए हमारे FACEBOOK पेज से ।

Story Author: Tanvi Sood



    +91 9004241611
601, ड्यूरोलाइट हाउस, न्यू लिंक रोड, अंधेरी वेस्ट,मुंबई, महाराष्ट्र, इंडिया- 400053
    Tags: ,

    Leave a Reply