Rocketry Teaser: माधवन की फिल्म में दिखेगी ISRO के वैज्ञानिक की अनोखी दास्‍तान

फिल्म रॉकेट्री द नंबी इफेक्ट का टीजर रिलीज हो गया है। टीजर में रॉकेट लॉन्च होते दिखाया गया है। इसमें पीएम मोदी की भी आवाज का इस्तेमाल हुआ है...

Author   |     |     |     |   Updated 
Rocketry Teaser: माधवन की फिल्म में दिखेगी ISRO के वैज्ञानिक की अनोखी दास्‍तान

बॉलीवुड अभिनेता आर माधवन (Madhavan) की अपकमिंग फिल्म रॉकेट्री द नंबी इफेक्ट (Rocketry the Nambi effect)  का टीजर रिलीज हो गया है। टीजर में रॉकेट लॉन्च होते दिखाया गया है। इसमें पीएम मोदी की भी आवाज का इस्तेमाल हुआ है। फिल्म भारतीय स्पेस साइंटिस्ट द्वारा मंगल पर पहले ही अटेम्प्ट में पहुंचने की कहानी पर आधारित है। फिल्म में आर माधवन इसरो के भारतीय साइंटिस्ट और एयरोस्पेस इंजीनियर नंबी नारायणन का किरदार निभा रहे हैं।

टीजर की शुरूआत में रॉकेट लॉन्च सीन के साथ बैक ग्राउंड में पीएम मोदी की आवाज सुनाई देती है। इसमें वो कहते हैं कि मेरे प्यारे देश वासियों मॉम का मंगल से मिलन होने जा रहा है। इसके बाद एक और आवाज आती है जो कहती है कि ये कारनामा हम 20 साल पहले ही कर सकते थे। वहीं टीजर में आर. माधवन की झलक दिखाई देती है। जिसमें वो एक खिड़की की तरफ मुंह करके खड़े होते हैं।

इसी के साथ टीजर में आकड़ों के जरीए ये भी जानकारी दी गई है कि कैसे मंगल मिशन को पूरा करने में अमेरिका की स्पेस संगठन नासा ने 19 बार कोशिस की थी। रूस ने इस मिशन को 16 प्रयासों के बाद पूरा किया था। जबकि भारत ने पहली कोशिस में ही ये मिशन पूरा कर लिया था। इतना तो तय है कि टीजर देखने के बाद आप अपने देश पर गर्व जरूर महसूस करेंगे।

https://www.youtube.com/watch?v=dZvnybfmxUQ

आर माधवन (R Madhavan) की ये फिल्म 31 अक्टूबर को रिलीज किया जाएगा। आर माधवन ने एक वीडियो शेयर किया था। वीडियो में माधवन ने कहा, ‘दुनिया में ऐसी कई निजी कहानियां हैं, जिनके बारे में आपने सुना होगा और कइयों के बारें में किसी को कोई जानकारी नहीं हैं। लेकिन कुछ कहानियां ऐसी हैं जिनके बारें में नहीं जानने का मतलब है कि आप अपने देश के बारे में बहुत कम जानते हैं।’

अभिनेता ने वीडियो में कहा है कि जब आप इस व्यक्ति की कहानी सुनेगे तो आप चुप नहीं रहेंगे। आप उनकी उपलब्धियों को देखेंगे तो मैं आपसे कह रहा हूं आप कभी चुप नहीं रहेंगे। बताते चलें कि भारतीन अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) के एक सीनियर अधिकारी के रूप में नारायणन क्रायोजेनिक्स खंड के प्रभारी थी।

नांबी नारायण को 1994 में उन्हें जासूसी के झूठे आरोपों के चलते गिरफ्तार किया गया था। सीबीआई द्वारा 1996 में उनके खिलाफ आरोपों कोो खारिज कर दिया गया और सुप्रीम कोर्ट ने 1998 में उन्हें दोषों से बरी कर दिया था। आर माधवन ने जानकारी दी है कि 31 अक्टूबर को रिलीज किया जाएगा।

 

 

Exclusive News, TV News और Bhojpuri News in Hindi के लिए देखें HindiRush । देश और दुन‍िया की सभी खबरों की ताजा अपडेट के ल‍िए जुड़िए हमारे FACEBOOK पेज से ।

Story Author: कविता सिंह

कविता सिंह
विवाह के लिए 36 गुण होते हैं, ऐसा फ़िल्मों में दिखाते हैं, पर लिखने के लिए 36 गुण भी कम हैं। पर लेखन के लिए थोड़े बहुत गुण तो है हीं। बाकी उम्र के साथ-साथ आ जायेंगे।

kavita.singh@hindirush.com     +91 9004241611
601, ड्यूरोलाइट हाउस, न्यू लिंक रोड, अंधेरी वेस्ट,मुंबई, महाराष्ट्र, इंडिया- 400053
Tags: , , , ,

Leave a Reply