रामायण और महाभारत ने तोड़े टीवी TRP के सारे रिकॉर्ड, BARC ने जारी की रिपोर्ट

BARC के मुख्य कार्यकारी सुनील लुल्ला ने बताया कि इसकी मुख्य वजह राष्ट्रीय प्रसारणकर्ता दूरदर्शन के दर्शकों की संख्या में वृद्धि होना है। इसी के साथ ही उन्होंने कहा कि सामान्य मनोरंजक चैनलों के दर्शकों की संख्या दूरदर्शन की वजह से काफी बढ़ी है।

  |     |     |     |   Published 
रामायण और महाभारत ने तोड़े टीवी TRP के सारे रिकॉर्ड, BARC ने जारी की रिपोर्ट
'रामायण' का दृश्य

BARC : कोरोना वायरस (Coronavirus) के चलते देश में इन दिनों का लॉकडाउन चल रहा है। सभी लोग घरों में ही रहें इसके लिए केंद्र सरकार ने दूरदर्शन (Doordarshan) पर अस्सी और नब्बे के दशक के कई सीरियल शुरू किये हैं। जिसमें रामायण, महाभारत प्रमुख हैं। अब दूरदर्शन पर अस्सी और नब्बे के दशक के के ये सीरियल लोगों के बीच खूब पसंद किये जा रहे हैं। जिसके चलते नए रिकॉर्ड बन रहे हैं।

BARC के मुख्य कार्यकारी सुनील लुल्ला ने बताया कि इसकी मुख्य वजह राष्ट्रीय प्रसारणकर्ता दूरदर्शन के दर्शकों की संख्या में वृद्धि होना है। इसी के साथ ही उन्होंने कहा कि सामान्य मनोरंजक चैनलों के दर्शकों की संख्या दूरदर्शन की वजह से काफी बढ़ी है। इतना ही नहीं परिषद ने बताया की 12 अप्रैल को समाप्त हुए सप्ताह तक टीवी देखने का आंकड़ा कोविड-19 से पहले की तुलना में 38 प्रतिशत बढ़ गया है। ऐसा बहुत कम देखने को मिला है जब अचानक से दर्शकों का आकड़ा इतना बढ़ गया हो।

रामायण में रावण का किरदार में अरविन्द त्रिवेदी

इस दौरान दर्शकों की संख्या तो बहुत बढ़ी है लेकिन विज्ञापन में काफी गिरावट देखने को मिली है। वहीं रामायण के प्रसारण के शुरू होने से उसके किरदारों को लेकर सोशल मीडिया पर काफी चर्चा हो रही है। सोशल मीडिया पर रामायण को लेकर कई तरह के memes भी वायरल हो रहे है। रामायण के एपिसोड को लेकर सोशल मीडिया पर लगातार चर्चा जारी है।

मेघनाथ के किरदार में विजय अरोड़ा

बता दें प्रधानमंत्री मोदी (Narendra Modi) ने 14 अप्रैल को देश के नाम संबोधन में 3 मई तक लॉकडाउन-2 (Lockdown 2.0) बढ़ाने की बात कही। टीवी पर संबोधन को रिकॉर्ड 20.3 करोड़ लोगों ने देखा। प्रसारण दर्शक अनुसंधान परिषद (बार्क) ने बृहस्पतिवार को कहा कि प्रधानमंत्री के संबोधन ने उनके ही पिछले रिकॉर्ड को तोड़ा है। अपने इस संबोधन में मोदी ने राष्ट्रव्यापी बंद को 19 दिन बढ़ाने की घोषणा की। बाजार अनुसंधान एजेंसी एसी नील्सन ने कहा कि रिकॉर्ड संख्या लोगों ने संपर्क का पता लगाने के आरोग्य सेतु एप को डाउनलोड किया है लेकिन इनमें से सिर्फ 10 प्रतिशत ही इसका इस्तेमाल कर रहे हैं।

Exclusive News, TV News और Bhojpuri News in Hindi के लिए देखें HindiRush । देश और दुन‍िया की सभी खबरों की ताजा अपडेट के ल‍िए जुड़िए हमारे FACEBOOK पेज से ।

Story Author: lakhantiwari



    +91 9004241611
601, ड्यूरोलाइट हाउस, न्यू लिंक रोड, अंधेरी वेस्ट,मुंबई, महाराष्ट्र, इंडिया- 400053
    Tags: , , ,

    Leave a Reply