मुश्किल घड़ी में लालू प्रसाद यादव के परिवार ने लिया भगवान का सहारा, पुजारी ने खोले ये राज

तेज प्रताप यादव और ऐश्वर्या की शादी में आई परेशानी को हल करने के लिए लालू परिवार ने एक कदम उठाया है...

बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री लालू प्रसाद यादव के बेटे तेजप्रताप यादव की शादी में आई परेशानी से मुक्ति पाने के लिए लालू परिवार ने भगवान का सहारा लिया। उत्तर प्रदेश के मिर्जापुर में मां विंध्यावासिनी देवी के मंदिर में 11 दिन तक पूजा की गई। ताकि इस परेशानी का समाधान निकाला जा सकें। इस बात की जानकारी मंदिर के पूजारी ने मीडिया को दी।

पुजारी राज मिश्रा ने कहा कि लालू यादव के परिवार के सदस्यों देवी विंध्यावासिनी पर बहुत विश्वास रखते हैं और बिहार के किनारे पूर्वी उत्तर प्रदेश के मंदिर में लगातार वह आते रहते हैं। पुजारी ने कहा कि उन्होंने उनके लिए ‘हवन पूजा’ की है ताकि वो अपनी इस समय आ रही समस्याओं से मुक्ति पा सकें। श्री मिश्रा ने कहा, “ग्रंथ नक्षत्र” और पूरे परिवार में शांति के लिए 11 दिनों के लिए एक हवन पूजा आयोजित की गई। उन्होंने कहा कि मैंने तेज प्रताप यादव के साथ फोन पर बात की, उन्होंने मुझसे देवी से प्रार्थना करने के लिए कहा। फिलहाल इस बात की पुष्टि के तेज प्रताप यादव की तरफ से नहीं की गई हैं।

पुजारी ने कहा, “मैं इस समय आ रही समस्याओं के बाद से उनके और उनके परिवार से बात कर रहा हूं।” हमने पूरे परिवार के लिए देवी से विशेष प्रार्थनाएं की है। ” श्री मिश्रा ने कहा कि उन्होंने 11 पुजारी और ‘पूर्णहुति’ द्वारा पूजा कराई है, आखिरी पूजा गुरुवार की रात को की गई थी।

इस दिन हुई थी शादी

लालू प्रसाद यादव के बड़े बेटे तेज प्रताप यादव की शादी इसी साल 12 मई को पटना में हुई। शादी के बाद तेज प्रताप अपनी पत्नी को साइकिल पर लेकर घूमते दिखे थे। इतना ही नहीं ऐश्वर्या के राजनीति में आने की अटकले भी लगाई जा रही थीं। ऐश्वर्या भी राजनीति घराने से आती हैं। उनके पिता चंद्रिका राय राजद विधायक हैं।

ऐश्‍वर्या राय के दादा दारोगा प्रसाद राय बिहार के मुख्‍यमंत्री रहे थे। तेज प्रताप को समझाने की कोशिश जारी है। तलाक की अर्जी दाखिल करने के बाद तेज प्रताप पिता लालू प्रसाद यादव से मिलने के लिए रांची रवाना हो चुके हैं।

NEXT STORY

Leave a Reply