26/11 Attacks: फिल्मी सितारों की जुबानी, जानिए उस खौफनाक रात की दिल झकझोरने वाली कहानी

26/11 Attacks: मुंबई हमले के दस साल पूरे होने पर बॉलीवुड सितारें मधुर भंडारकर, विवेक ओबराय, इम्तियाज अली, दीया मिर्जा, फरहान अख्तर ने अपने दर्द को बताया है।

मुंबई की 26/11 (Mumbai Terror Attack) की वो ठंड भरी रात और शहर एकाएक बम के धमाके दहल गया था। एक नहीं कई जगहों पर आतंकियों ने बम धमाके किए। आज उस हमले के 10 साल होने के बाद भी आज तक दर्द ताजा है। जिन्होंने उसे देखा और महसूस किया। उनके जेहन से वो काली रात का मंजर अब तक मंडराता रहता है।

सेना, मुंबई पुलिस से लेकर बॉलीवुड सितारे और नेता शहीदों को याद कर रहे हैं। इस दिन सपनों की नगरी को बचाने के लिए खुद को कुर्बान कर दिए। आज भी सोशल मीडिया, अखबार और टीवी स्क्रीन उस काली रात का खूनी मंजर दिखा रहे हैं। तस्वीरें देखकर सिहरन पैदा हो रही है।

आज मुंबई हमले के दस साल पूरे होने पर सपनों की नगरी में रहने वाले सितारों ने उस दर्द को बयां किया है। इसके साथ-साथ बहादुर जवानों को याद किया है। इस मौके पर आइए जानते हैं कि बॉलीवुड सितारों ने किस तरह मुंबई हमले को याद किया है।

मुंबई हमले को लेकर मधुर भंडारकर, विवेक ओबराय, इम्तियाज अली, दीया मिर्जा, फरहान अख्तर से लेकर तमाम बॉलीवुड सितारों ने अपने दर्द को बताया है। खैर जिसने उस रात के दर्द को झेला है उसे तो वहीं बता सकते हैं। इस मौके पर ओडिशा के अंतर्राष्ट्रीय रेत कलाकार सुदर्शन पटनायक के अलावा अन्य लोगों ने भी पेंटिंग और कला के जरिए इन वीरों को याद किया है।

 

फिल्मी सितारों ने 26/11 हमले को यूं किया याद…

 

विवेक ओबेरॉय
विवेक ओबेरॉय उस रात की बात बताते हैं कि फिलाडेल्फिया में सैफ अली खान, करीना कपूर, रेनसील के साथ शूटिंग कर रहे थे। जब हमें हमले की खबर मिली तो हम लोग चौंक गए। हमें परिवार की चिंता सताने लगी। हम लोग दूर होकर बहुत ही मजबूर हो गए थे। हमें परिवार की फिकर थी लेकिन कुछ कर नहीं सकते थे। उसके बाद हम लोग अपने शहर और घर-परिवार के लिए प्रार्थना करने लगे।

नील नितीन मुकेश
नील नितीन मुकेश ने बताया कि वे पिछले साल इसी दिन शूटिंग कर रहे थे। उनको बरबस काली रात की याद आ रही थी। उनका कहना है कि काश, वे मुबंई के खुशियों वाले दिन को लौटा पाते। जिन लोगों ने अपने परिवार और बच्चों को खोया उनको लौटा देते।

तुषार कपूर
तुषार कपूर बताते हैं कि वे उस दिन कैपटाउन में शूटिंग कर रहे थे। तभी इस घटना की जानकारी मिली। बस इसके बाद वह डर सहम गए। जब वे मुंबई लौटे तो मंजर देखकर सहम गए। पहली बार उन्होंने मुंबई को गुमशुम होते देखा था।

इम्तियाज अली
मुझे याद है कि मैं देर रात फिल्म शूटिंग करके घर आया था। मुझे टीवी ऑन करने का मन किया। मैं जो देख रहा था, उसने मुझे अगले 70 घंटों तक डरा कर कैद रखा। हम उस वर्ष के डर से अब तक रिहा नहीं हो पाए हैं। हमें संवेदनशील होना चाहिए और 26/11 पीड़ितों के परिवारों को मीडिया कंटेंट के लिए याद नहीं दिलाना है।

फरहान अख्तर
फरहान अख्तर बताते हैं वे उस रात ओय एपिसोड की शूटिंग कर के लौटे थे। वे रितिक रोशन के साथ काम कर रहे थे। जब हमने टीवी खोला था देखा कि बाहर का मंजर बिल्कुल बदल गया है। मुंबई डर में कैद हो गई है। हमारी आंखों के सामने सबकुछ हो रहा था लेकिन हम कुछ ना कर सकें।

यहां देखिए वीडियो

पढ़िए मधु भंडारकर, दिया मिर्जा जैसी फिल्मी हस्तियों ने क्या कहा…

Leave a Reply