LIVE: पत्रकार हत्याकांड में राम रहीम समेत चारों आरोपी दोषी करार, 17 जनवरी को होगा सजा का ऐलान

हरियाणा के पत्रकार रामचंद्र छत्रपति (Ramchandra Chatrapati) हत्याकांड में पंचकूला सीबीआई कोर्ट (Panchkula CBI Court) ने अपना फैसला सुना दिया है। अदालत ने डेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम (Gurmeet Ram Rahim) समेत चारों आरोपियों को दोषी करार दिया है।

Ram Rahim verdict life imprisonment in journalist murder case
पत्रकार हत्याकांड में गुरमीत राम रहीम को उम्रकैद की सजा सुनाई गई है।

हरियाणा के पत्रकार रामचंद्र छत्रपति (Ramchandra Chatrapati) हत्या मामले में पंचकूला में सीबीआई की स्पेशल कोर्ट (Panchkula CBI Court) ने अपना फैसला सुना दिया है। इस हत्याकांड में डेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम (Gurmeet Ram Rahim) मुख्य आरोपी था। कोर्ट ने राम रहीम (Ram Rahim) समेत चारों आरोपियों को दोषी करार दिया है। 17 जनवरी को उनकी सजा का ऐलान होगा। फैसले के मद्देनजर पंचकूला शहर को छावनी में तब्दील कर दिया गया है। कोर्ट परिसर के बाहर करीब 500 सुरक्षाकर्मियों को तैनात किया गया है। कोर्ट के चारों ओर बैरिकेडिंग भी की गई है।

हिंसा व अन्य अराजक गतिविधियों को ध्यान में रखते हुए मुख्य आरोपी गुरमीत राम रहीम (Gurmeet Ram Rahim) को कोर्ट नहीं लाया गया। राम रहीम (Ram Rahim) ने पंचकूला सीबीआई कोर्ट (Panchkula CBI Court) का फैसला वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए सुना। शहर में सुरक्षा व्यवस्था चाक-चौबंद रखने के लिए ड्रोन कैमरों का इस्तेमाल किया गया। संदिग्धों की धरपकड़ के लिए विशेष टीम का गठन किया गया था।

2017 में पंचकूला में फैली थी हिंसा

बताते चलें कि साल 2017 में जब पंचकूला कोर्ट (Panchkula Court) द्वारा गुरमीत राम रहीम (Gurmeet Ram Rahim) को सजा सुनाई गई थी तो फैसला आते ही शहर में काफी हिंसा हुई थी। इस घटना में 40 लोगों की मौत हो गई थी और 50 से ज्यादा लोग घायल हुए थे। एहतियातन पुलिस प्रशासन इस बार कोई रिस्क नहीं लेना चाहता था, लिहाजा पंचकूला शहर में भारी संख्या में पुलिसबल व अन्य कंपनियों की तैनाती कर दी गई है।

क्या है मामला?
अक्टूबर 2002 में स्थानीय पत्रकार रामचंद्र छत्रपति (Ramchandra Chatrapati) की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। मृतक ‘पूरा सच’ नाम से अखबार प्रकाशित करते थे। उनके अखबार में यह बताया गया था कि कैसे राम रहीम (Ram Rahim) सिरसा स्थित डेरा मुख्यालय में महिलाओं का यौन शोषण करता था। उन्होंने इससे जुड़ी कई खबरें प्रकाशित की थीं। साल 2003 में केस दर्ज हुआ था। 2006 में इसे सीबीआई को सौंप दिया गया। 2007 में सीबीआई ने कोर्ट में चार्जशीट दाखिल की और राम रहीम (Ram Rahim) को कत्ल की साजिश रचने का मुख्य आरोपी माना था। मामले में जिरह पूरी हो चुकी है और फैसला सुनाने के लिए शुक्रवार का दिन मुर्करर किया गया था।

नीचे देखें पत्रकार हत्याकांड फैसले से जुड़ा हर LIVE UPDATES:

– अदालत ने फैसला सुनाते हुए कहा कि पत्रकार रामचंद्र छत्रपति की हत्या और हत्या की साजिश रचने के आरोप में चारों आरोपियों को दोषी करार दिया जाता है। 17 जनवरी को उन्हें सजा सुनाई जाएगी।

– पत्रकार हत्या मामले में पंचकूला कोर्ट ने गुरमीत राम रहीम समेत चारों आरोपियों को दोषी करार दिया है। दोषियों की सजा का ऐलान 17 जनवरी को होगा।

– कोर्ट के बाहर दोनों पक्षों के लोग मौजूद हैं। मीडिया के लोग भी कोर्ट के बाहर फैसले का इंतजार कर रहे हैं। पुलिसकर्मी व्यवस्था दुरुस्त कर रहे हैं। संदिग्ध लोगों पर नजर रखी जा रही है।

– पत्रकार हत्याकांड के 3 आरोपी पंचकूला कोर्ट पहुंच चुके हैं। अब से कुछ ही देर में जज अपना फैसला सुनाएंगे। मुख्य आरोपी राम रहीम वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए फैसला सुनेगा।

– हरियाणा के एडिशनल डीजीपी (कानून-व्यवस्था) मोहम्मद अकील ने कहा कि पत्रकार हत्या मामले में फैसले के एहतियातन पंचकूला और आसपास के क्षेत्रों की सुरक्षा बढ़ा दी गई है। संदिग्धों पर नजर रखी जा रही है।

– कोर्ट परिसर की ओर से गुजरने वाले लोगों की तलाशी ली जा रही है। अभी तक स्थिति पूरी तरह पुलिस के नियंत्रण में है।

– रोहतक रेंज के आईजी संदीप खिरवार ने कहा, ‘जेल के आसपास हमने 2 तरीके से कड़ा सुरक्षा घेरा बनाया है। 500 पुलिसकर्मी कोर्ट परिसर के बाहर तैनात किए गए हैं। सुरक्षा व्यवस्था दुरुस्त रखने के लिए ड्रोन कैमरों से निगरानी की जा रही है। पुलिस लोगों को समूह में इकट्ठा होने की इजाजत नहीं देगी। मैं सभी लोगों से शांति बनाए रखने की अपील करता हूं। हम ये सुनिश्चित कर रहे हैं कि नागरिकों को किसी तरह की परेशानी न हो।’

– राम रहीम (Ram Rahim) को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए कोर्ट में पेश किया जाएगा, जबकि अन्य आरोपी कोर्ट लाए जाएंगे।

– दो साध्वियों से रेप का दोषी गुरमीत राम रहीम (Gurmeet Ram Rahim) इस समय रोहतक की सुनारिया जेल में सजा काट रहा है। अदालत ने उसे 20 साल की सजा सुनाई है।

– पत्रकार हत्याकांड मामले में मुख्य आरोपी राम रहीम (Ram Rahim) को पहले कोर्ट लाने का फैसला किया गया था। राज्य सरकार ने 2017 की घटनाओं का जिक्र करते हुए कोर्ट से अपील की थी कि राम रहीम (Ram Rahim) को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए पेश किया जाए। कोर्ट ने सरकार की अपील मंजूर कर ली थी।

NEXT STORY

Leave a Reply