क्रिकेट के शर्मनाक रिकॉर्ड्स!

May 31, 2021

भारतीय क्रिकेट टीम में 'द वॉल' नाम से मशहूर राहुल द्रविड़ अपने करियर के दौरान कुल 55 बार बोल्ड हुए हैं। राहुल द्रविड़ टेस्ट क्रिकेट में सबसे ज्यादा बोल्ड होने वाले बल्लेबाज हैं।

पाकिस्तान के पूर्व तेज गेंदबाज मोहम्मद सेमी के नाम एक ओवर में सबसे ज्यादा गेंद डालने का रिकॉर्ड है। वेस्टइंडीज के खिलाफ 2004 में एक बार उन्होंने एक ओवर में 17 गेंदें डाली थी। इस ओवर में उन्होंने 7 नॉ बॉल और 4 वाइड गेंद डाली थी।

टेस्ट क्रिकेट में एक पारी में सर्वाधिक अतिरिक्त रन देने का ओवरऑल रिकॉर्ड भारत के नाम दर्ज है। उसने पाकिस्तान के खिलाफ 2007 में बेंगलुरु टेस्ट मैच में 76 अतिरिक्त रन दिए।

टेस्ट क्रिकेट में इंग्लैंड के लिए सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले एंडरसन के नाम इसी फॉर्मेट के एक ओवर में सबसे ज्यादा रन लुटाने का रिकॉर्ड भी है। 2013 में ऐशेज सीरीज के दौरान ऑस्ट्रेलिया के जॉर्ज बेली ने उनके ओवर में 28 रन बनाए थे।

श्रीलंका के पूर्व सलामी बल्लेबाज सनथ जयसुर्या के नाम वनडे क्रिकेट में सबसे ज्यादा बार शून्य पर आउट होने का रिकॉर्ड है। वनडे क्रिकेट में 10 हजार से अधिक रन बनाने वाला यह खिलाड़ी अपने करियर के दौरान 34 बार शून्य पर आउट हुआ है।

भारतीय क्रिकेट टीम ने 1952 में इंग्लैंड दौरा किया था। इस सीरीज के तीसरे टेस्ट मैच के दूसरे दिन भारतीय क्रिकेट टीम एक दिन में 2 बार आउट हो गई थी।

सबसे धीमी पारी की बात करें तो सुनील गावस्कर के नाम शर्मनाक रिकॉर्ड दर्ज है। इंग्लैंड के खिलाफ एक मैच में सलामी बल्लेबाज सुनील गावस्कर ने 174 गेंदों पर 36 रन की धीमी पारी खेली और नॉटआउट रहे।

भारतीय क्रिकेट टीम सबसे ज्यादा बार 350 रन देने के मामले में पहले स्थान पर है। भारतीय क्रिकेट टीम अब तक कुल 12 बार 350 से ज्यादा रन लुटा चुकी है।

न्यूजीलैंड ने आयरलैंड को 403 रनों का लक्ष्य दिया था। जिसके जवाब में आयरलैंड की टीम 112 रनों पर सिमट गई थी। न्यूजीलैंड ने यह मैच 290 रनों से जीता था। वनडे क्रिकेट में रनों के मामले में यह सबसे बड़ी हार है।

वनडे में सबसे कम स्कोर की बात करें तो यह रिकॉर्ड संयुक्त रूप से जिम्बाब्वे और यूएसए के नाम हैं। 2004 में जिम्बाब्वे की टीम श्रीलंका के विरुद्ध सिर्फ 35 रनों पर ऑल आउट हो गयी थी।

खेल जगत और बॉलीवुड की ऐसी ही मजेदार और चटपटी खबरों को जानने के लिए यहाँ क्लिक करें!