भोजपुरी स्टार रितेश पांडे की जर्नी!

May 12, 2021

रितेश पांडे ने एक इंटरव्यू में बताया कि बचपन में परिवार की आर्थिक स्थति काफी दयनीय होने के कारण रितेश पांडेय के पिता उनको लेकर बनारस आये थे।

अच्छी पढाई के कारण पिताजी बनारस में एक स्कूल में अध्यापक की उपाधि पर रहे। जिस विद्यालय में उनके पिता जी पढ़ाते थे उसी विद्यालय में रितेश पांडेय पढ़ा करते थे।

रितेश पांडे ने बायोलॉजी विषय से लगभग 72 प्रतिशत अंको से 12वीं पास की थी। इसे देख सभी ने उन्हें कोटा जाकर पी. एम.टी की तैयार का सुझाव दिया।

रितेश पांडेय ने बनारस के महात्मा गांधी काशी विद्यापीठ युनिवर्सिटी से बी.एम (बैचलर्स ऑफ़ म्यूजिक) की डिग्री प्राप्त की है।

बैचलर्स ऑफ़ म्यूजिक की डिग्री प्राप्त करने के बाद रितेश पांडे धीरे धीरे गाने लगे। गाना गाने के बाद भी उन्हें एक बड़ी परेशानी का सामना करना पड़ा जिसकी वजह से उन्हें इस क्षेत्र में कोई प्लेटफॉर्म नहीं मिल रहा था।

रितेश पांडे को बचपन से ही गाने का शौक था। इसी के चलते उन्होंने इसी में अपना करियर बनाने की सोची, लेकिन उन्हें बड़ी कठिनाइयों का सामना करना पड़ा।

रितेश पांडे ने अपनी खुद की एक एल्बम बनाने की सोची। जिसके लिए उन्होंने कहीं से जुगाड़ करके पैसा इक्कट्ठा किया और खर्चा करने के बाद भी उन्हें इस एल्बम पर कोई रिस्पॉन्स नहीं मिला।

एल्बम फ्लॉप होने के बाद रितेश पांडे करीब दो साल तक उसी स्टूडियो में रहे। उनका वहीं खाना, पीना, सोना रहा। जब वो अच्छे सिंगर न बन पाए तो उन्होंने रिकॉर्डिंग सीखना स्टार्ट कर दिया। रितेश पांडे को रिकॉर्डिंग करना भी आता हैं।

रितेश पांडे ने एक और प्रयास किया। उन्होंने 'करूआ तेल' गाना गाया। इस गाने को खुद रितेश पांडेय एक पेन ड्राइव में लेकर बिहार और यूपी के प्रत्येक शहर में दुकान-दुकान तक बाइक से पहुँचाये थे। इस प्रकार रितेश पांडेय की मेहनत रंग लाई और देखते ही देखते गाना बहुत बड़ा हिट हो गया।

एक्टर रितेश पांडे अब अपनी शादी को लेकर सुर्ख़ियों में हैं। उनकी होने वाली पत्नी का नाम डॉक्टर वैशाली पांडे है और वो सैदपुर, गाजीपुरी की रहने वाली हैं। जानकारी के मुताबिक वैशाली सिविल सर्विस की तैयारी में जुटी हैं।

भोजपुरी सिनेमा की ऐसी ही मजेदार और चटपटी खबरों को जानने के लिए यहाँ क्लिक करें!