वनडे की सबसे सफल ओपनिंग जोड़ियां!

June 30, 2021

सचिन तेंदुलकर- वीरेन्द्र सहवाग की जोड़ी साल 2002 से 2012 तक जब भी मैदान में उतरी विपक्षी गेंदबाज खौफ खाते रहे। आक्रमकता और संयम के इस मिश्रण ने टीम इंडिया को 2011 विश्व कप जीतने भी अहम योगदान दिया।

सचिन तेंदुलकर– वीरेंद्र सहवाग  की जोड़ी में आक्रामक खेल की जिम्मेदारी सहवाग ने निभाई तो पारी को संवारने की जिम्मेदारी सचिन ने खुद के कंधों पर ली।

मार्क वॉ- एडम गिलक्रिस्ट ने ऑस्ट्रेलियाई गोल्डेन पीरियड की शुरूआत की। साल 1998 में बनी इस जोड़ी ने एक साथ बल्लेबाजी करना शुरू किया और 2002 तक ये हर विरोधी टीम के लिए चुनौती बने रहे।

लेफ्ट हैंड राइट हैंड कंबीनेशन वाली इस जोड़ी में दोनों बल्लेबाज एक दूसरे से बिल्कुल अलग थे। एडम गिलक्रिस्ट हर गेंद को स्टैंड दिखाना चाहते थे तो मार्क वॉ पारी को आगे बढ़ाकर टीम को जीत की मंजिल तक पहुंचाने वाले बल्लेबाज थे।

वेस्टइंडीज टीम में डेसमंड हेंस- गॉर्डन ग्रीनिज की सलामी जोड़ी 1979-91 तक हर विरोधी टीम की सबसे बड़ी समस्या रही।

डेसमंड हेंस- गॉर्डन ग्रीनिज को शुरूआत में आउट करना तेंज गेंदबाजों के लिए सपने जैसा था। औसत के नजरिये से देखा जाए तो ये जोड़ी वनडे क्रिकेट की बेस्ट सलामी जोड़ी है।

एडम गिलक्रिस्ट-मैथ्यू हेडेन की जोड़ी ऑस्ट्रेलियाई टीम के लिए शानदार रही। बाएं हाथ के ये दोनों सलामी बल्लेबाज विपक्षी गेंदबाजी को तहस नहस करने में यकीन रखते थे।

हेडेन-गिलक्रिस्ट की जोड़ी ने ऑस्ट्रेलिया को 2003 और 2007 विश्व कप जीताने में खास भूमिका निभाई।

बेस्ट ओपनर की लिस्ट में सबसे ऊपर सचिन-गांगुली की सलामी जोड़ी है।

सचिन-गांगुली की जोड़ी लेफ्ट- राइट हैंड कंबीनेशन पर आधारित हर लिहाज से वनडे क्रिकेट की बेस्ट ओपनिंग जोड़ी है।

खेल जगत और बॉलीवुड की ऐसी ही मजेदार और चटपटी खबरों को जानने के लिए यहाँ क्लिक करें!