Loveyatri Movie Review: घिसे-पिटे और पुराने मसाले से भरपूर है फिल्म ‘लवयात्री’

फिल्म में गरबा प्रेम कहानी का महत्वपूर्ण हिस्सा है...

Author   |     |     |     |   Updated 
Loveyatri Movie Review: घिसे-पिटे और पुराने मसाले से भरपूर है फिल्म ‘लवयात्री’

कलाकार- आयुष शर्मा, वरीना हुसैन
निर्देशक- अभिराज मीनावाला
मूवी टाइप- ड्रामा, रोमांस
अवधि- 1 घंटा 52 मिनट

सलमान खान के बैनर तले बनीं फिल्म ‘लवयात्री’ शुक्रवार को सिनेमाघरों में रिलीज हो गई है। इस फिल्म से सलमान के बेहनोई आयुष शर्मा और एक्ट्रेस वरीना हुसैन बॉलीवुड में डेब्यू कर रहें हैं। फिल्म में नवरात्री के त्योहार के दौरान हुए प्यार की कहानी को दर्शाया गया है। जो फिल्म के हिरो हिरोईन की जिंदगी को पूरी तरह बदल देती है। फिल्म ‘लवयात्री’ गुजरात की पृष्ठभूमि पर निर्मित है। इस फिल्म में नवरात्री के मौके पर एक्टर और एक्ट्रेस के उभरते प्यार के बारें में दिखाया गया है। गरबा इस प्रेम की कहानी का महत्वपूर्ण हिस्सा रहा है।

फिल्म में सुश्रुत उर्फ सुसु (आयुष शर्मा) को मिशेल (वरीना हुसैन) से प्यार हो जाता है। सुसु का किरदार आम लड़के का होता है। वो वडोदरा में बच्चों को गरबा सिखाता है। डांस सीखाने के अलावा बाकी उसकी जिंदगी में कोई और ख्वाहिश नहीं होती है। सुसु के घरवालों की तरफ से नौकरी का दबाव होता है जबकि वो वडोदरा में अपनी खुद की एक डांस ऐकडमी खोलना चाहता है।

सलमान खान ने इस अंदाज से कहा अपने बेहनोई को All The Best

वहीं मिशेल विदेश से भारत वापस लौटती हैं। गरबा के दौरान उनकी मुलाकात सुसु से होती है। इसी बीच दोनों को प्यार हो जाता है। इसके बाद सुसु और मिसेल की पूरी जिंदगी बदल जाती है। ये फिल्म प्यार और रोमांस से भरपूर है। फिल्म में फिर एक ट्विस्ट आता है। इसमें क्या मिशेल लंदन वापस चली जाएगी और सुसु का दिल टूट जाएगा। क्या गरबा ब्वॉय उसे फिर से मना पाएगा.. फिल्म की बाकी कहानी इसी के इर्द-गिर्द घूमती है।

कहानी आपको बॉलीवुड के पुराने मसाले की तरह लगेगी हालांकि फिल्म के किरदार आपको पंसद आ जाएंगे। फिल्म के गाने खूबसूरती से फिल्माएं गए हैं। अभिराज मीनावाला का सपाट निर्देशन और घिसा-पिटा प्लॉट लवयात्री को फेल कर देता है। मूवी मीटर के हिसाब से हम इसको देते हैं 35%।

देखिए फिल्म का ट्रेलर…

Exclusive News, TV News और Bhojpuri News in Hindi के लिए देखें HindiRush । देश और दुन‍िया की सभी खबरों की ताजा अपडेट के ल‍िए जुड़िए हमारे FACEBOOK पेज से ।

Story Author: कविता सिंह

कविता सिंह
विवाह के लिए 36 गुण होते हैं, ऐसा फ़िल्मों में दिखाते हैं, पर लिखने के लिए 36 गुण भी कम हैं। पर लेखन के लिए थोड़े बहुत गुण तो है हीं। बाकी उम्र के साथ-साथ आ जायेंगे।

kavita.singh@hindirush.com     +91 9004241611
601, ड्यूरोलाइट हाउस, न्यू लिंक रोड, अंधेरी वेस्ट,मुंबई, महाराष्ट्र, इंडिया- 400053

    Anonymous

    Hey aayush bhaiya my phone no 9155422691 plz msage send me.

Leave a Reply