कमाई के मामले में ‘सुई धागा’ पड़ी ‘पटाखा’ पर भारी, जानिए पहले दिन का Box office Collection

इस शुक्रवार फिल्म सुई धागा और पटाखा रिलीज हुई हैं। दोनों फिल्म की पहले दिन की कमाई कुछ इस तरह से हैं...

Author   |     |     |     |   Published 
कमाई के मामले में ‘सुई धागा’ पड़ी ‘पटाखा’ पर भारी, जानिए पहले दिन का Box office Collection

सिनेमाघरों में शुक्रवार को विशाल भारद्वाज की फिल्म ‘पटाखा’ बड़े पर्दे पर रिलीज हो गई है। 875 स्क्रीन पर दिखाए जाने के बाद ‘पटाखा’ फिल्म ने पहले दिन 90 लाख की कमाई की हैं। इसके साथ ही बात करें वरुण धवन और अनुष्का शर्मा की फिल्म ‘सुई धागा’ की तो वह पहले ही दिन लगभग 10 करोड़ की कमाई करने में सफल रही है। ऐसे में फिल्म से इस चीज की उम्मीद की जा रही है कि वह ऐसी ही कमाई का सिलसिला दूसरे दिन भी जारी रखेगी।

फिल्म पटाखा की कहानी दो बहनों पर आधारित है। जो हमेशा लड़ती रहती हैं। जब दोनों बहनों की शादी हो जाती हैं तो उन्हें इस बात का अहसास होता है कि वे एक दूसरे के बिना नहीं रह सकती हैं। इस पूरी घटनाक्रम पर ये फिल्म आधारित है। विशाल भारद्वाज के डायरेक्शन में बनीं इस फिल्म की कहानी चरन सिंह पाठक ने लिखी हैं। वहीं, ‘सुई धागा’ फिल्म के साथ अनुष्का शर्मा और वरुण धवन पहली बार एक साथ बड़े पर्दे पर नजर आए हैं। फिल्म ‘दम लगा के हईशा’ बना चुके डायरेक्टर शरत कटारिया एक देसी कहानी लेकर बड़े पर्दे पर लौटे हैं। उन्होंने इस फिल्म में मिडिल क्लास परिवार के संघर्ष को दिखाने की कोशिश की है।

आए आपको बताते है दोनों फिल्म की कुछ खास बातें…

विशाल भारद्वाज की फिल्म ‘पटाखा’

फिल्म पटाखा की कहानी दो बहनों पर आधारित है। दोनों बहनों के बीच में प्यार का गहरा रिश्ता होता है। वे एक दूसरे से लड़ाई-झगड़ा करते हुए ही बड़ी हुईं होती हैं। ये बहने आपस में ऐसे लड़ती हैं जिसे देखकर पहलवानों को भी शर्म आ जाती है। फिल्म में दोनों बहनों के सपने एक दूसरे से बहुत अलग होते हैं। एक का सपना टीचर बनना होता है, तो दूसरे का खुद की डेयरी शुरू करने का। अपने- अपने सपनों के लिए दोनों बहनों की आपस में लड़ाई बढ़ती जाती हैं।

ये दोनों बहने अपने लिए अपना पार्टनर ढूंढने में भी सफल साबित होती हैं, लेकिन इस दौरान फिल्म में एक ट्विस्ट आता हैं। इसके बाद ये दोनों बहने देवरानी-जेठानी बन जाती हैं। इस नए रिश्ते में ये दोनों बहने एक दूसरे को कैसे हैड़ल कर पाती हैं या नहीं। ये जानने के लिए आपको फिल्म देखनी होगी।

फिल्म में दोनों बहनों की लड़ाई के तौर पर भारत-पाक के रिश्ते के तौर पर दिखाया गया है। वहीं फिल्म में सुनील ग्रोवर इन बहनों के पड़ोसी बने हैं। उनका इस फिल्म में अहम रोल है। पिता का किरदार विजय राज ने बखूबी अदा किया है। जो ये समझने की कोशिश करते हैं कि उनकी बेटियों के दिमाक में क्या चल रहा है। फिल्म में कलाकारों ने दमदार एक्टिंग की है। फिल्म में डायरेक्टर ने सीधी सरल कहानी के साथ गंभीर राजनीतिक मुद्दा बताया है।

मिडिल क्लास फैमली के संघर्ष की दास्तान है सुई धागा

सुई धागा की कहानी दर्जी मौजी (वरुण धवन) और उसकी पत्नी ममता (अनुष्का शर्मा) पर आधारित है। मौजी अपने मालिक से परेशान होता है। मौजी का मालिक हमेशा उसका मजाक उड़ाता रहता हैं। इसके चलते एक दिन मौजी का ऐसा मजाक बनाया जाता है कि उसकी पत्नी को गुस्सा आ जाता है। उसके बाद उसकी पत्नी उसको अपना काम शुरू करने के लिए मोटिवेट करती है। जिसके बाद दोनों का संघर्ष शुरू हो जाता हैं।

इस बीच मौजी और उसकी पत्नी ममता को कई समस्याओं का सामना करना पड़ता है। अब अपने शुरू किए गए बिजनेस में मौजी सफल बिजनेसमैन बन पाता है या नहीं? इसके लिए आपको सिनेमाघर में फिल्म देखनी पड़ेगी। फिल्म का पहला हाफ ठीक है, लेकिन दूसरा थोड़ा खींचा हुआ लगता है। फिल्म के गाने भी बहुत ज्यादा कैंची नहीं हैं। इस फिल्म को 2200 स्क्रीन पर रिलीज किया गया है।

Exclusive News, TV News और Bhojpuri News in Hindi के लिए देखें HindiRush । देश और दुन‍िया की सभी खबरों की ताजा अपडेट के ल‍िए जुड़िए हमारे FACEBOOK पेज से ।

Story Author: दीपाक्षी शर्मा

दीपाक्षी शर्मा
सभी को देश और दुनिया की खबरों के साथ-साथ एंटरटेनमेंट जगत से रुबरु कराने का काम करती हूं। राजनीतिक विज्ञान का ज्ञान लेकर एमए पास किया है। मास कम्युनिकेशन में पीजी डिप्लोमा के बाद फिलहाल पत्रकारिता कर रही हूं।

deepakshi.sharma@hindirush.com     +91 9004241611
601, ड्यूरोलाइट हाउस, न्यू लिंक रोड, अंधेरी वेस्ट,मुंबई, महाराष्ट्र, इंडिया- 400053
Tags: , , , ,

Leave a Reply