Kumbh Mela 2019: संतों के शाही स्नान के साथ कुंभ मेला का हुआ आगाज, यहां देखें शानदार तस्वीरें

महाशिवरात्रि यानि 50 दिनों तक चलने वाले कुंभ मेला (Kumbh Mela 2019) का साधु-संतों के शाही स्नान के साथ शुरू हो गया है। आज सूर्योदय होते के साथ ही 13 अखाड़ों के साधु संतों ने पवित्र संगम में डुबकी लगाई।


kumbh mela 2019, prayagraj kumbh mela,
  • 1 / 10

    महाशिवरात्रि यानि 50 दिनों तक चलने वाले कुंभ मेला (Kumbh Mela 2019) का साधु-संतों के शाही स्नान के साथ शुरू हो गया है। यहां नागा बाबाओं का समूह है जो बड़ी धूमधाम से और करतब दिखाते हुए पवित्र संगम में स्नान के लिए जा रहा है।

  • 2 / 10

    इस बार प्रयागराज में अर्द्ध कुम्भ का मेला लगा। कड़ी सुरक्षा के बीच नागा साधुओं सहित अन्य साधुओं का जत्था संगम की तरफ प्रस्थान करते हुए।

  • 3 / 10

    कुम्भ मेला 2019 के शुरू होने और मकर संक्रांति के पावन मौके पर साधु-संत के अलााव देशभर से आए लोग। सवेरा होने से पहले ही तमाम श्रद्धालु नदी किनारे खड़े हैं और आस्था की डुबकी लगाने के लिए बेताब हैं।

  • 4 / 10

    शरीर पर भस्म लगाकर नागा साधु हाथ में तलवार और भाला लिए अपनी कलाओं का प्रदर्शन दिखाते हुए। साथ में फूलों से सजा भगवान का मंडप ले जाते हुए।

  • 5 / 10

    शाहीन स्नान करने के बाद साधु-संतों ने एक दूसरे के शरीर पर भस्म लगाई और देशभर आए श्रद्धालुओं को अपने करतब दिखाए। आज सूर्योदय होते के साथ ही 13 अखाड़ों के साधु संतों ने पवित्र संगम में डुबकी लगाई।

  • 6 / 10

    देशभर से आए साधु-संतों और श्रद्धालुओं के लिए उत्तर प्रदेश सरकार और केंद्र सरकार ने कड़ी सुरक्षा की व्यवस्था की है। जिससे की किसी भी साधु-संत और श्रद्धालुओं को किसी भी परेशानी या असुविधा का सामना नहीं करना पड़ा।

  • 7 / 10

    मकर संक्रांति के दिन एक साधु भगवान सूर्य को नमस्कार वंदना करता हुए। यहां आए साधु संत विभिन्न तरीकों से पूजा-अर्चना करते हैं।

  • 8 / 10

    ये साधु और संत नागा साधु बनने वाले हैं। इस दौरान वह सिर्फ एक लंगोट में रहते हैं और कुम्भ मेले में स्नान के बाद लंगोट का त्याग कर देंगे और फिर ये पूरी तरह से नागा साधू बन जाएंगे।

  • 9 / 10

    पवित्र संगम की ओर बढ़ता हुआ साधु का जत्था। इन जत्थों में कई साधुओं के समूह हैं। ये समूह अलग-अलग रूप में सज कर आएं हैं। कुम्भ मेले में आर्कषण का केंद्र होते हैं।

  • 10 / 10

    केंद्र सरकार और राज्य सरकार ने इस बार श्रद्धालुओं और तीर्थयात्रियों को सुविधाएं देने के लिए कई महत्वपूर्ण कदम उठाए हैं। सरकार ने तीर्थयात्रियों को सुरक्षा व्यवस्था, बेहतर यातायात व्यवस्था के साथ कई अन्य सुविधाएं उपलब्ध करवाई हैं।

  • Leave a Reply