सुभाष घई पर लेखिका ने लगाया रेप का आरोप, कहा- नशीली ड्रिंक देकर लूटी इज्जत

डायरेक्टर सुभाष घई महिला द्वारा लगाए गए आरोपों को खारिज करते हुए नजर आ रहें हैं...

By   |    |   161 reads   |  0 comments
सुभाष घई पर लेखिका ने लगाया रेप का आरोप, कहा- नशीली ड्रिंक देकर लूटी इज्जत

इन दिनों हर तरफ #MeToo के चलते बॉलीवुड में किसी न किसी स्टार पर आरोप लग रहे हैं। इस अभियान में मशहूर डायरेक्टर अब सुभाष घई (Subhash Ghai) का नाम भी नाम जुड़ चुका है। उनके साथ काम कर चुकी एक महिला ने यौन उत्पीड़न ने आरोप लगाया है। उसने कहा है कि उन्होंने मेरी ड्रिंक में नशीला पदार्थ मिला दिया। इसके बाद बंद कमरे में उसके साथ रेप किया। हालांकि, सुभाष घई ने इस आरोप को पूरी तरह खारिज कर दिया।

यह मामला उस वक्त सामने आया जब महिमा कुकरेजा नाम की लेखिका ने इस केस के बारे में जानकारी दी। महिला ने सुभाष घई (Subhash Ghai) के साथ चैट किया था और पूरी घटना के बारे में खुलकर बताया। महिला उस वक्त फिल्म कंपनी में ही काम किया करती थी। इसी दौरान वह यौन उत्पीड़न का शिकार हुई। हालांकि महिला का नाम सामने नहीं आया है। लेकिन लेखिका ने पीड़िता महिला के सारे स्क्रीनशॉट को ट्वीट किया है।

पोस्ट में महिला ने बताया कि उसने एक साल पहले एक फिल्म में डायरेक्टर के साथ काम किया था। जैसे-जैसे समय बीतता गया उसका महिला में इंटरेस्ट पैदा होना शुरू हो गया। महिला ने आगे बताया कि देर तक संगीत सेशन होने के बाद डायरेक्टर ने उन्हें एक ड्रिंक ऑफर किया जिसमें कुछ नशीला पदार्थ मिला हुआ था। महिला ने कहा कि उन्हें सिर्फ इतना ही याद है कि वह उसे कमरे में ले गया और बेहोश होने तक उसके साथ यौन उत्पीड़न करते रहा।

महिला द्वारा लगाए गए आरोप पर डायरेक्टर सुभाष घई ने कहा कि  मैंने अपने खिलाफ मीडिया के जरिए कुछ आरोपों के बारे में सुना है। मुझे इस बात को लेकर काफी दुख है कि अब ये सब एक फैशन सा हो गया है। किसी की भी इमेज खराब करने के लिए अतीत की कुछ भी कहानियां बनाकर उसे बिना किसी सच्चाई के आधार पर सबके सामने पेश किया जाता है। मैं इन तरह के सभी झूठे आरोपों से सख्ती और दृढ़ता से इनकार करता हूं।

आगे कहते हैं कि मैंने हमेशा अपने जीवन में और कार्यस्थल पर हर महिला का सम्मान किया है। हम गरिमा के साथ रहते थे और हमेशा दूसरों की गरिमा का सम्मान करते थे। अगर वह इस तरह का दावा करती है, तो उसे अदालत में जाना चाहिए और आरोपों को साबित करना चाहिए। ऐसे में उसके साथ न्याय किया जाएगा या मुझे निश्चित रूप से मानहानि के लिए जाना होगा। भगवान उनको आशीर्वाद दें जो हमारी छवि को नुकसान पहुंचाने की कोशिश कर रहे हैं।

Leave a Reply