शाहरुख की बेटी सुहाना खान ने ट्रोलर्स को दिया मुंहतोड़ जवाब, स्किन टोन को लेकर किया गया था ट्रोल

सुहाना खान (Suhana Khan) ने उन ट्रोलर्स को निशाने पर लिया जो उनकी स्किन टोन को लेकर उनको ट्रोल करते हैं और मजाक बनाते हैं।

  |     |     |     |   Updated 
शाहरुख की बेटी सुहाना खान ने ट्रोलर्स को दिया मुंहतोड़ जवाब, स्किन टोन को लेकर किया गया था ट्रोल
सुहाना खान की फोटो (तस्वीर: इंस्टाग्राम)

बॉलीवुड के किंग यानी शाहरुख खान (Shahrukh Khan) अकसर अपनी सोशल मीडिया पोस्ट को लेकर चर्चा में आ जाते हैं। लेकिन इस बार उनकी बेटी सुहाना खान (Suhana Khan) ने अपनी एक इंस्टाग्राम पोस्ट को लेकर सुर्ख़ियों में हैं। सुहाना खान ने उन ट्रोलर्स को निशाने पर लिया जो उनकी स्किन टोन को लेकर उनको ट्रोल करते हैं और मजाक बनाते हैं।

कुछ दिनों पहले सुहाना खान ने अपनी एक खूबसूरत फोटो पोस्ट की थी। इस फोटो पर कई इंस्टाग्राम यूजर्स ने उनपर विवादित टिप्पणी की। अब इसी को लेकर सुहाना ने ऐसे यूजर्स को मुंहतोड़ जवाब दिया है। सुहाना ने ट्रोलर्स को ‘काला’ और ‘काली’ का फर्क समझाया है।

View this post on Instagram

There's a lot going on right now and this is one of the issues we need to fix!! this isn't just about me, it's about every young girl/boy who has grown up feeling inferior for absolutely no reason. Here are just a few of the comments made about my appearance. I've been told I'm ugly because of my skin tone, by full grown men and women, since I was 12 years old. Other than the fact that these are actual adults, what's sad is that we are all indian, which automatically makes us brown – yes we come in different shades but no matter how much you try to distance yourself from the melanin, you just can't. Hating on your own people just means that you are painfully insecure. I'm sorry if social media, Indian matchmaking or even your own families have convinced you, that if you're not 5"7 and fair you're not beautiful. I hope it helps to know that I'm 5"3 and brown and I am extremely happy about it and you should be too. #endcolourism

A post shared by Suhana Khan (@suhanakhan2) on

सुहाना ने अपनी पोस्ट में ट्रोलर्स को ‘काली बताने पर एक पोस्ट भी किया। जिसमें लिखा ‘यह उन सभी लोगों के लिए है जो हिंदी नहीं बोलते हैं। मैंने सोचा था कि आपको थोड़ा समझा दूं। हिंदी में काले रंग के लिए शब्द ‘काला’ इस्तेमाल होता है। वहीं, शब्द ‘काली’ का उपयोग एक महिला के संदर्भ में किया जाता है। जो गहरे रंग की होती है और यह हमेशा से ही सही वजह के लिए इस्तेमाल नहीं किया जाता है।’

सुहाना ने अपनी पोस्ट में लिखा ‘आजकल बहुत कुछ चल रहा है और यह उन मुद्दों में से एक है, जिसे हमें ठीक करने की जरूरत है!! यह सिर्फ मेरे बारे में नहीं है, यह हर युवा लड़की/लड़के के बारे में है जो बिना किसी वजह के हीन भावना के साथ बड़ा हुआ है। यहां मेरे बारे में कुछ टिप्पणियां की गई हैं। मुझे 12 उम्र की उम्र से लोग बताते रहे हैं कि मैं अपनी त्वचा की टोन की वजह से बदसूरत दिखती हूं।’

सुहाना आगे लिखती हैं इस तथ्य के अलावा कि कहने वाले सभी लोग वयस्क हैं, पर दुख की असल बात यह है कि हम सभी भारतीय हैं, जो स्वाभाविक रूप से भूरी त्वचा के होते है। हां, हमारे त्वचा के रंगों में फर्क होता है, पर मेलेनिन से दूरी बनाने की कोशिश करने से कोई फर्क नहीं पड़ने वाला। आप ऐसा नहीं कर सकते। अपने ही लोगों से नफरत करने का मतलब है कि आप खुद में बेहद असुरक्षित महसूस करते हैं।

बिग बॉस 2020 का नया प्रोमो वीडियो आया सामने, इस बार शो में एजाज खान ने मारी एंट्री! देखें Video

हिंदी रश की ताजा वीडियो यहां देखें:

Exclusive News, TV News और Bhojpuri News in Hindi के लिए देखें HindiRush । देश और दुन‍िया की सभी खबरों की ताजा अपडेट के ल‍िए जुड़िए हमारे FACEBOOK पेज से ।

Story Author: lakhantiwari



    +91 9004241611
601, ड्यूरोलाइट हाउस, न्यू लिंक रोड, अंधेरी वेस्ट,मुंबई, महाराष्ट्र, इंडिया- 400053
    Tags: , , , , ,

    Leave a Reply