कश्मीर की वादियों में दोबारा शुरू हुई फिल्मों की शूटिंग, इस आतंकवादी घटना के बाद सहम गए थे फिल्ममेकर्स

2012 में आई फिल्ममेकर यश चोपड़ा की सुपरहिट फिल्म 'जब तक है जान' की शूटिंग भी कश्मीर की वादियों में हुई थी। इस फिल्म में शाहरुख खान, कैटरीना कैफ और अनुष्का शर्मा ने मुख्य भूमिका निभाई थी।

कश्मीर की वादियोंमें किंग खान ( फोटो - इंस्टाग्राम )

जम्मू कश्मीर के पुलवामा में हुए आतंकवादी हमले के बाद कश्मीर की घाटियों में जीवन अस्त-व्यस्त हो गया था। इस हमले ने कश्मीर के पर्यटन को भी काफी हद तक प्रभावित किया। लेकिन अब इस हमले के लगभग एक महीने बाद कश्मीर के हालात में काफी तेजी से सुधार हो रहा है। कई फिल्ममेकर्स जिन्होंने इस आतंकी हमले के बाद घाटी में अपनी फिल्मों की शूटिंग रोक दी थी, अब उन फिल्मों की शूटिंग दोबार शुरू कर दी है। इसके साथ-साथ कई विज्ञापन और शार्ट फिल्मों की शूटिंग भी घाटी में शुरू हो रही है। जम्मू-कश्मीर पर्यटन विभाग के अनुसार फिल्ममेकर्स की घाटियों में शूट करने के लिए परमिशन लेने की संख्या में अब बढ़ोतरी हो रही है।

जम्मू- कश्मीर जिसे धरती का स्वर्ग कहा जाता है, यहां पहले हालात सामान्य हुआ करते थे। जिसकी वजह से कश्मीर की वादियां शुरू से ही फिल्ममेकर की पहली पसंद हुआ करती थी। 80 और 90 के दशक की अधिकांश फिल्मों की शूटिंग कश्मीर की वादियों में की जाती थी। 2012 में आई फिल्ममेकर यश चोपड़ा की सुपरहिट फिल्म ‘जब तक है जान’ की शूटिंग भी कश्मीर की वादियों में हुई थी। इस फिल्म में शाहरुख खान, कैटरीना कैफ और अनुष्का शर्मा ने मुख्य भूमिका निभाई थी। लेकिन जुलाई 2015 में सेना द्वारा हिज्बुल मुजाहिदीन के कमांडर बुरहान वानी के मार गिराने के बाद घाटी के हालत में काफी बदलाव हो गया। इस घटना के बाद स्थानीय लोगों और सेना के बीच काफी तनाव बढ़ गया।

कश्मीर पर्यटन विभाग के डायरेक्टर निसार अहमद ने न्यूज़ वेबसाइट डीएच से बातचीत में बताया, ‘फीचर फिल्म मेकर और शार्ट फिल्म निर्माता यहां शूट के लिए परमिशन ले रहें है। तुलिप गार्डन इन फिल्ममेकर की पहली पसंद बन रही है। यहां पर कई तरह की फिल्मों क्रू शूटिंग की परमिशन के लिए हमारे पास आवेदन आ रहे हैं।’ कश्मीर पर्यटन विभाग की वेबसाइट के अनुसार पिछले 2 सालों में 15 से ज्यादा फिल्मों और ऐड की शूटिंग कश्मीर की घाटियों में हुई हैं।

एसके इंटरनेशनल कन्वेंशन सेंटर के डायरेक्टर जावेद अहमद बक्शी के मुताबिक केवल फिल्ममेकर ही नहीं टीवी निर्माता भी कश्मीर की घाटियों में शूट करना चाहते हैं। उन्होंने कहा, ‘हमने हाल ही में मुंबई में कई फिल्ममेकर और टीवी निर्माताओं से बात की जिन्होंने कश्मीर की घाटियों के प्रति अपने लगाव को बताया।’ जावेद अहमद बक्शी ने मुंबई में आयोजित भारत के सबसे बड़े मीडिया और एंटरटेनमेंट इवेंट ‘फिक्की फ्रेम’ में जम्मू-कश्मीर को ‘पार्टनर स्टेट’ के रूप में प्रस्तुत किया था। पर्यटन विभाग के इन सब कार्यकर्मों से इसके पर्यटन को और बढ़ावा मिलेगा।

वीडियो में देखिए आज की खास ख़बरें…

Leave a Reply