खुले बाल व पेटीकोट में महिला को चुड़ैल समझ की हत्या, पूरा मामला है हैरान करने वाला

मृतक महिला का पति टॉर्च लेने के लिए घर की ओर आया लेकिन जाकर देखा तो उसकी पत्नी वहां से गायब हो गई थी

By   |    |   837 reads   |  0 comments
खुले बाल व पेटीकोट में महिला को चुड़ैल समझ की हत्या, पूरा मामला है हैरान करने वाला

उत्तर प्रदेश में एक मानवता को तार-तार करने वाली घटना सामने आई है। एक बीमार महिला के खुले बाल और आधे कपड़े में देखकर उसे चुड़ैल समझकर मार डाला। कानपुर के बिल्हौर के देवहा सरैया गांव की घटना ने अंधविश्वास और इंसानियत पर कई सवाल खड़े कर दिए है। गांव में इस घटना के बाद मातम छाया हुआ है।

प्राप्त जानकारी के मुताबिक देवहा सरैया गांव के बाहर यूकेलिप्टस के बागान में आपत्तिजनक अवस्था में महिला की लाश मिली। शौच के लिए निकली जशोदा के खुले बाल व पेटीकोट में देखकर उन्होंने उसे चुड़ैल समझकर पीटना शुरू किया जिससे कि उसकी मौत हो गई। मामला दबाने के लिए शव को बाग में फेंका गया था।

टॉर्च के कारण घटी घटना
मृतका के पति भारत गौतम की पत्‍‌नी जशोदा 42 वर्ष की थी। भारत गौतम का कहना है कि अप्रैल में इकलौती बेटी की शादी करने के बाद मानसिक रुप से बीमार थी। इसी हफ्ते गुरूवार की रात करीब डेढ़ बजे शौच के लिए पति के साथ गई लेकिन पति अंधेरा होने पर पत्नी को घर से कुछ दूर छोड़कर टार्च लेने वापस घर गया। पर टॉर्च लेकर जब लौटा तो जशोदा वहां पर नहीं मिली।

इन पर हत्या का आरोप
जशोदा के पति के अनुसार, वह कटरा गांव भटकते हुए पहुंच गई। जहां वासुदेव व उसके बेटों ने खुले बाल और पेटीकोट व ब्लाउज में देख चुड़ैल समझ बैठे। इसके बाद उसे बुरी तरह पीट कर मौत के घाट उतार दिया। बीमारी के कारण जशोदा काफी कमजोर हो गई थी और थोड़ा भयावह भी दिखने लगी थी। पुलिस ने तीन लोगों को गिरफ्तार कर लिया है। गैर इरादतन हत्या का मुकदमा दर्ज कर हुआ है।

बता दें कि इसको लेकर दोनों गांवों के बीच मामला गरमाया हुआ है। पुलिस इस मामले को लेकर जांच पड़ताल जारी रखी है। साथ ही महिला के पति पर भी कई तरह के सवाल खड़े हो रहे हैं। इसीलिए उससे भी पूछताछ की जा रही है।

Leave a Reply