Brahmastra में रणबीर कपूर के जूते विवाद पर अयान मुखर्जी का पोस्ट, बताया क्या है सच

ब्रह्मास्त्र (Brahmastra) के ट्रेलर का दर्शकों को बेसब्री से इंतज़ार था। ट्रेलर में दर्शकों को कमाल के VFX के साथ-साथ एक ऐसा भी सीन देखने को मिला, जिसने दर्शकों को निराश किया। ट्रेलर के आने के बाद कई यूजर्स ने सोशल मीडिया पर इसके एक सीन पर कड़ी आपत्ति व्यक्त की। इस सीन में रणबीर कपूर (Ranbir Kapoor) को जूते पहनकर मंदिर की घंटी बजाते देखा गया था।

  |     |     |     |   Updated 
Brahmastra में रणबीर कपूर के जूते विवाद पर अयान मुखर्जी का पोस्ट, बताया क्या है सच

फिल्म ब्रह्मास्त्र (Brahmastra) के ट्रेलर का दर्शकों को बेसब्री से इंतज़ार था। ट्रेलर में दर्शकों को कमाल के VFX के साथ-साथ एक ऐसा भी सीन देखने को मिला, जिसने दर्शकों को निराश किया। ट्रेलर के आने के बाद कई यूजर्स ने सोशल मीडिया पर इसके एक सीन पर कड़ी आपत्ति व्यक्त की। इस सीन में रणबीर कपूर (Ranbir Kapoor) को जूते पहनकर मंदिर की घंटी बजाते देखा गया था। वहीं अब इस विवाद पर ब्रह्मास्त्र के डायरेक्टर अयान मुखर्जी (Ayan Mukerji) ने इस सीन को लेकर सफाई दी है।

ब्रह्मास्त्र (Brahmastra) के ट्रेलर को लेकर यूजर्स का कहना था कि जूते के साथ मंदिर में जाते हुए रणबीर को दिखाना सही नहीं है। इससे लोगों की धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंची है। यही नहीं कई ट्रोलर्स ने तो #boycottbrahmastra ट्रेंड करना शुरू कर दिया था। अब ब्रह्मास्त्र के डायरेक्टर अयान मुखर्जी ने सोशल मीडिया पर पोस्ट कर इस सीन को लेकर सफाई दी है।

अयान मुखर्जी ने एक बयान जारी किया है। उन्होंने अपनी इस पोस्ट में कहा कि रणबीर कपूर ट्रेलर में जहां गए हैं, वह मंदिर नहीं बल्कि दुर्गा पूजा का पंडाल है। अयान ने आगे लिखा है, ‘हमने कुछ लोगों से जाना कि वह हमारे ट्रेलर में रणबीर के जूते पहनकर घंटी बजाने वाले सीन से खफा हैं। फिल्म के निर्देशक (और एक भक्त) के रूप में जो हो रहा है उसके बारे में मैं विनम्रतापूर्वक बात करना चाहता हूं। हमारी फिल्म में रणबीर मंदिर में नहीं बल्कि दुर्गा पूजा के पंडाल में प्रवेश कर रहे हैं। मेरा परिवार इस तरह के दुर्गा पूजा समारोह का आयोजन 75 सालों से करता आ रहा है, जिसका मैं बचपन से हिस्सा रहा हूं।’

अपनी इस पोस्ट में अयान मुखर्जी ने आगे लिखा ‘मेरा जो अनुभव है, हम स्टेज पर देवी के आगे जाने से पहले जूते उतारते हैं, पंडाल में प्रवेश करने पर जूते नहीं उतारते। निजी रूप से मेरे लिए यह महत्वपूर्ण है कि मैं हर उस व्यक्ति तक पहुंच सकूं जो इस तस्वीर से दुखी है… क्योंकि इन सबसे ऊपर, ब्रह्मास्त्र एक फिल्म है जो भारतीतय संस्कृति, परंपराओं और इतिहास का सम्मान करती है और उसका जश्न मनाती है। यही वजह है कि मैंने ये फिल्म बनाई है। मेरे लिए यह बहुत महत्वपूर्ण है कि यह भावना हर उस भारतीय तक पहुंचे जो ब्रह्मास्त्र देख रहा है।’

Sai Pallavi ने कश्मीरी पंडितों पर दिए विवादित बयान पर दी सफाई, कहा- दिल की बात कहने से पहले दो बार सोचूंगी!

बॉलीवुड और टीवी की अन्य खबरों के लिए यहाँ क्लिक करें: 

Exclusive News, TV News और Bhojpuri News in Hindi के लिए देखें HindiRush । देश और दुन‍िया की सभी खबरों की ताजा अपडेट के ल‍िए जुड़िए हमारे FACEBOOK पेज से ।

Story Author: lakhantiwari



    +91 9004241611
601, ड्यूरोलाइट हाउस, न्यू लिंक रोड, अंधेरी वेस्ट,मुंबई, महाराष्ट्र, इंडिया- 400053
    Tags: , , , , , , ,

    Leave a Reply