Double Meaning Songs: बॉलीवुड के 10 ऐसे डबल मीनिंग गाने, जिसे बस अकेले में या हेडफ़ोन लगाकर ही सुन सकते हैं

गानो में असली काम लिरिसिस्ट यानि कि गीतकारों का होता हैं वह शब्दों को खूबसूरती से गानों के रूप में पेश करते हैं. लेकिन हम कई बार ऐसे गानों से रो बा रु हो जाते हैं जिन्हें अकेले में सुने तो ही बेहतर है. जी हाँ हमारे बॉलीवुड फिल्ममेकर्स कभी कभी बहुत नॉटी हो जाते हैं और फिल्मों में ऐसे गाने डाल देते हैं जो डबल मीनिंग (Double Meaning) वाले होते हैं

  |     |     |     |   Updated 
Double Meaning Songs: बॉलीवुड के 10 ऐसे डबल मीनिंग गाने, जिसे बस अकेले में या हेडफ़ोन लगाकर ही सुन सकते हैं

बॉलीवुड फिल्मों की जान उनके गाने होते हैं. कई बार ऐसा होता हैं कि फिल्में फ्लॉप हो जाती हैं लेकिन गानें सालों तक याद रहते हैं. गानो में असली काम लिरिसिस्ट यानि कि गीतकारों का होता हैं वह शब्दों को खूबसूरती से गानों के रूप में पेश करते हैं. लेकिन हम कई बार ऐसे गानों से रो बा रु हो जाते हैं जिन्हें अकेले में सुने तो ही बेहतर है. जी हाँ हमारे बॉलीवुड फिल्ममेकर्स कभी कभी बहुत नॉटी हो जाते हैं और फिल्मों में ऐसे गाने डाल देते हैं जो डबल मीनिंग (Double Meaning) वाले होते हैं यह भी पढ़ें: बॉलीवुड के अच्छे दिन लौटाने के लिए सलमान खान ने कसी कमर, ‘किसी का भाई किसी की जान’ का टीजर हुआ आउ

तो चलिए नज़र डालते हैं बॉलीवुड के कुछ ऐसे ही डबल मीनिंग (Double Meaning) गानों पर जिन्हें बच्चों के सामने सुनना मना है.

आए यम ए हंटर (फिल्म: गैंग्स ऑफ़ वासेपुर)

ये गाना डबल मीनिंग (Double Meaning) हैं जिसे आप बच्चो के सामने सुनने से बड़े बहुत डरते हैं.

नमक इश्क का (फिल्म: ओमकारा)

इस गाने में बिपाशा बसु अपने जलवे बिखेरती नजर आई थी. वही रेखा भारद्वाज की नशीली आवाज़ ने इस पर चार चांद लगा दिये थे. मगर गुलज़ार के लिए हुए इस गाने में काफी डबल मीनिंग (Double Meaning) थी।

 झल्ला-वल्लाह (फिल्म: इशकज़ादे)

अर्जुन कपूर और परिणीति चोपड़ा की इस डेब्यू फिल्म का म्यूज़िक बहुत ही कमाल था, जो आज भी शादियों और पार्टियों में बजाया जाता है। इस फिल्म का एक गाना झल्ला-वल्लाह जिसमें गौहर खान के किलर अंदाज पर लोग फिदा हो गए थे. इस गाने के लिरिक्स काफी डबल मीनिंग हैं.

 भाग डीके बोस (फिल्म: देल्ली बेल्ली)

ये गाना को अगर आप धयान से सुने तो इसके लिरिक्स काफी डबल मीनिंग (Double Meaning) हैं. जो बच्चो के सामने बिल्कुल नहीं सुने जा सकते हैं.

चोली के पीछे (फिल्म: खलनायक)

का गाना है ये 90 के दशक की सुपरहिट फिल्म थी. इस फिल्म के सारे गाने लोगों को बेहद पसंद आए थे. वही इस फिल्म का गाना चोली के पीछे काफी पॉपुलर गाना है. लेकिन अगर आप इस गाने के शब्दों पर थोड़ा ध्यान दे तो आपको पता चलेगा की ये काफी  डबल मीनिंग (Double Meaning) हैं.

प्रीतम प्यारे (फिल्म: रावडी राठोड़)

ये एक बॉलीवुड हिंदी फिल्म गीत है जिसे ममता शर्मा और सरोश सामी ने गाया है। इस गाने के बोल समीर अंजान ने लिखे हैं और संगीत साजिद-वाजिद ने दिया है। स गाने पर आप ध्यान दे तो ये काफी डबल मीनिंग हैं.

सरकाए लो खटिया (राजा बाबु)

इस गाने को गोविंदा और करिश्मा कपूर पर फिलमाया गया हैं। इसके गीत समीर द्वारा लिखे गए हैं संगीत आनंद श्रीवास्तव, मिलिंद श्रीवास्तव द्वारा दिया गया है

 राणा जी माफ़ करना (करन अर्जुन)

इस गाने को अलका याज्ञनिक और इला अरुण ने गाया है और इंदीवर ने लिखा है। मुझको राणा जी माफ़ करना का संगीत राजेश रोशन ने दिया है।

 खड़ा है खड़ा है (फिल्म: अंदाज़)

ये फिल्म 1994 में आई फिल्म अंदाज़ का गाना है खड़ा है के गायक साधना सरगम ​​विनोद राठौड़ हैं। गीत इंदीवर (श्यामलाल बाबू राय) द्वारा लिखे गए हैं संगीत बप्पी लाहिड़ी द्वारा दिया गया है

 सुबाह को लेती है शाम को लेती है (अमानत)

1994 में आई अमानत का सुबाह को लेती है शाम को लेती है को अलका याज्ञनिक, इला अरुण, कुमार शानू ने गाया हैं. गीत अनवर सागर द्वारा लिखे गए हैं संगीत बप्पी लाहिड़ी द्वारा दिया गया है  जो काफी (Double Meaning) हैं.

यह भी पढ़ें: Happy Birthday Rakesh Roshan: राकेश रोशन की हर फिल्म के शुरुआत में आता है ‘K’, जानिए इसके पीछे की कहानी!

 बॉलीवुड और टीवी की अन्य खबरों के लिए क्लिक करें:

Exclusive News, TV News और Bhojpuri News in Hindi के लिए देखें HindiRush । देश और दुन‍िया की सभी खबरों की ताजा अपडेट के ल‍िए जुड़िए हमारे FACEBOOK पेज से ।

Story Author: chhayasharma



    +91 9004241611
601, ड्यूरोलाइट हाउस, न्यू लिंक रोड, अंधेरी वेस्ट,मुंबई, महाराष्ट्र, इंडिया- 400053
    Tags: ,

    Leave a Reply