सावन के महीने में ऐसे करें भोलेनाथ को खुश, भगवान शिव को चढ़ाएं ये 5 चीजें, मनोकामना होगी पूरी

सावन (Sawan 2022) का पावन महीना आज से शुरू हो गया है। इस साल सावन मास 14 जुलाई से शुरू होकर 12 अगस्त तक रहेगा। भगवान शिव के भक्त पूरे 30 दिन उनकी पूजा-अर्चना करेंगे। शास्त्रों और पुराणों में ऐसी बहुत सी बातें लिखी हुई हैं जिनसे आप सावन के महीने में भगवान् शिव जी को प्रसन्न कर सकते हैं। अगर सावन में ये चीजें शिवजी को अर्पित की जाएं तो इंसान की हर मनोकामना पूरी हो सकती है।

  |     |     |     |   Updated 
सावन के महीने में ऐसे करें भोलेनाथ को खुश, भगवान शिव को चढ़ाएं ये 5 चीजें, मनोकामना होगी पूरी
सावन 2022

सावन (Sawan 2022) का पावन महीना आज से शुरू हो गया है। इस साल सावन मास 14 जुलाई से शुरू होकर 12 अगस्त तक रहेगा। भगवान शिव के भक्त पूरे 30 दिन उनकी पूजा-अर्चना करेंगे। शास्त्रों और पुराणों में ऐसी बहुत सी बातें लिखी हुई हैं जिनसे आप सावन के महीने में भगवान् शिव जी को प्रसन्न कर सकते हैं। अगर सावन में ये चीजें शिवजी को अर्पित की जाएं तो इंसान की हर मनोकामना पूरी हो सकती है।

भांग- सावन के महीने में भगवान भोलेनाथ को भांग का भोग लगाना चाहिए। भांग भोलेनाथ को बहुत प्रिय है। वैसे तो ये एक नशीला पौधा होता है, लेकिन आयुर्वेद के साथ-साथ शिवजी की पूजा इसका विशेष महत्व बताया गया है। सावन के महीने में भांग से शिव का श्रृंगार करने से मनोवांछित वरदान मिल सकता है।

धतूरा- सावन में शिवलिंग पर धतूरा चढ़ाने की परंपरा है। धतूरा भगवान शिव को बेहद पसंद है। ऐसी मान्यता है कि शिवलिंग पर धतूरे के फूल चढ़ाने से पुत्र प्राप्ति की मनोकामना पूरी होती है। शिव की पूजा में लाल डंठल वाला धतूरा भी चढ़ाया जाता है।

शमी के पत्ते- भगवान भोलेनाथ की पूजा में आप शमी के पत्ते भी चढ़ाए। शमी को शनिदेव का पेड़ माना जाता है। इसलिए शिवलिंग पर इसके पत्ते चढ़ाने से भोलेनाथ के साथ-साथ शनिदेव भी प्रसन्न होते हैं। साढ़े साती या ढैय्या से प्रभावित लोग भी इसे शिवलिंग पर चढ़ा सकते हैं।

आक या मदार के फूल- सावन मास में शिवजी को आक के फूल अर्पित करने से मनोकामना पूरी हो सकती है। शिवपुराण के अनुसार, लाल और सफेद रंग के आंकड़े के फूल चढ़ाने से मोक्ष की प्राप्ति होती है। इसका पौधा मुख्य द्वार पर लगाना भी बहुत शुभ माना जाता है।

बिल्व पत्र- जीवन में कोई संकट हो या काम में रुकावट आ रही हो तो सावन में भगवान शिव को बिल्व पत्र यानी बिल्व के पत्ते जरूर चढ़ाएं। शास्त्रों के अनुसार, बिल्व की जड़ में स्वयं भगवान शिव का वास होता है।

सावन महीने का कैलेंडर: इस साल होगा 30 दिन का श्रावण मास, इसमें 4 सोमवार और 26 दिन रहेंगे शुभ

बॉलीवुड, टीवी और लाइफस्टाइल से जुड़ी खबरों के लिए क्लिक करें:

Exclusive News, TV News और Bhojpuri News in Hindi के लिए देखें HindiRush । देश और दुन‍िया की सभी खबरों की ताजा अपडेट के ल‍िए जुड़िए हमारे FACEBOOK पेज से ।

Story Author: lakhantiwari



    +91 9004241611
601, ड्यूरोलाइट हाउस, न्यू लिंक रोड, अंधेरी वेस्ट,मुंबई, महाराष्ट्र, इंडिया- 400053
    Tags: , , ,

    Leave a Reply