Ganesh Chaturthi 2022: जानिए क्यों मनाते हैं गणेश चतुर्थी का त्योहार? 10 दिनों तक ही क्यों करते हैं पूजा

पौराणिक कथाओं की मान्यता के आधार पर कहा जाता है कि चतुर्थी के दिन माता पार्वती के पुत्र गणेश जी का जन्म हुआ था. इसी दिन से गणेश चतुर्थी (Ganesh Chaturthi 2022) का त्योहार बड़े धूमधाम से मनाते हैं.

  |     |     |     |   Updated 
Ganesh Chaturthi 2022: जानिए क्यों मनाते हैं गणेश चतुर्थी का त्योहार? 10 दिनों तक ही क्यों करते हैं पूजा

Ganesh Chaturthi 2022: देशभर में गणेश चतुर्थी का त्योहार बड़ी धूमधाम के साथ मनाया जाता है. इस वर्ष भी तैयारियां शुरू हो चुकी हैं. देश के कई राज्यों में गणेश चतुर्थी का त्योहार बड़े ही धूमधाम से मनाया जाता है. महाराष्ट्र में गणेश उत्सव की एक अलग ही धूम देखने को मिलती है. इस मौके पर बड़े-बड़े पंडाल सजाए जाते हैं और सभी लोग अपने-अपने घरों में भी गणपति की स्थापना करते हैं. क्या अपने कभी सोचा है कि आखिर क्यों मनाया जाता है गणेश चतुर्थी (Ganesh Chaturthi) का त्योहार, और इसे 10 दिनों तक ही क्यों मनाते हैं? तो चलिए हम बताते हैं आपको ऐसा क्यों हैं?

क्यों मनाते हैं गणेश चतुर्थी का त्योहार

गणेश चतुर्थी का त्योहार पूरे देश में बड़ी ही धूमधाम से मनाते हैं. पौराणिक कथाओं की ऐसी मान्यता है कि चतुर्थी के दिन माता पार्वती के पुत्र गणेश जी का जन्म हुआ था. इसलिए भाद्रपद मास के शुक्ल पक्ष की चतुर्थी तिथि के दिन प्रत्येक वर्ष बड़े ही धूमधाम से गणेश चतुर्थी का त्योहार मनाया जाता है.

यह भी पढ़ें: भगवान गणेश के 8वें अवतार में से एक है गजानन, हर दुख को करते है दूर

इसके साथ ही एक और मान्यता है कि महर्षि वेदव्यास जी ने भगवान गणेश जी से महाभारत की रचना को लिपिबद्ध करने की प्रार्थना की थी. जिसके बाद गणेश चतुर्थी के दिन ही व्यास जी ने श्लोक बोलना और गणेश जी ने उसे लिपिबद्ध करना प्रारम्भ किया था. गणेश जी ने बिना रूके लगातार 10 दिनों तक लेखन किया. इन 10 दिनों में गणेश जी पर धूल-मिट्टी से की परत चढ़ गई. जिसके बाद गणेश जी इसे साफ़ करने के लिए 10वें दिन सरस्वती नदी में स्नान किया. तभी से गणेश चतुर्थी का त्योहार मनाया जाता है.

यह भी पढ़ें: Women’s Equality Day: राजनीति में अपना परचम लहराने वाली महिलाओं को इस दिन मिला वोट डालने का अधिकार

गणेश चतुर्थी 2022 तिथि और शुभ मुहूर्त

इस वर्ष गणेश चतुर्थी का त्योहार भाद्रपद मास के शुक्ल पक्ष की चतुर्थी तिथि के दिन यानी 31 अगस्त 2022 को पड़ रहा है. इस दिन शुभ मुहूर्त दोपहर 3 बजकर 23 मिनट पर शुरू होगा. ये समय ही गणेश मूर्ति स्थापना के लिए भी बेहद ही शुभ है.

यह भी पढ़ें: Women’s Equality Day: मर्दानी V/S सिंघम… बॉलीवुड मेल और फीमेल कॉप्स किरदारों में अब भी होता है भेदभाव

बॉलीवुड और टीवी की अन्य खबरों के लिए क्लिक करें:

Exclusive News, TV News और Bhojpuri News in Hindi के लिए देखें HindiRush । देश और दुन‍िया की सभी खबरों की ताजा अपडेट के ल‍िए जुड़िए हमारे FACEBOOK पेज से ।

Story Author: lakhantiwari



    +91 9004241611
601, ड्यूरोलाइट हाउस, न्यू लिंक रोड, अंधेरी वेस्ट,मुंबई, महाराष्ट्र, इंडिया- 400053
    Tags:

    Leave a Reply