Cluster Headache: क्लस्टर सिरदर्द कर देता है इंसान का जीना हराम, जानिए कारण, लक्षण और इलाज

आज हम आपको एक ऐसे ही सिरदर्द के बारे में बताएंगे जिसमें इंसान का सर सिर्फ फटता ही नहीं है बल्कि ऐसा दर्द होता है कि इंसान अपना आपा भी खो देता है. हम आपको क्लस्टर सिरदर्द के कारण, लक्षण के साथ-साथ उससे बचाव के उपाय भी बताएंगे.

  |     |     |     |   Updated 
Cluster Headache: क्लस्टर सिरदर्द कर देता है इंसान का जीना हराम, जानिए कारण, लक्षण और इलाज
CLUSTER

सिरदर्द आज के समय में बहुत आम सी बात हो गई है. कई लोगों को सेहन करने लायक दर्द होता है तो कुछ को ऐसा बी सिरदर्द होता है जो बर्दाश्त करना मुश्किल हो जाता है. वहीं आज हम आपको एक ऐसे ही सिरदर्द के बारे में बताएंगे जिसमें इंसान का सर सिर्फ फटता ही नहीं है बल्कि ऐसा दर्द होता है कि इंसान अपना आपा भी खो देता है. हम आपको  क्लस्टर सिरदर्द के कारण, लक्षण के साथ-साथ उससे बचाव के उपाय भी बताएंगे. यह भी पढ़ें: Bhojpuri: खेसारी लाल यादव ने मुंबई में लिया लिट्टी चोखा का मजा, बताया- इस शेफ को मैंने सिखाया है

Cluster Headache
Cluster Headache

क्या होता है क्लस्टर सिरदर्द?

क्लस्टर सिरदर्द एक असामान्य प्रकार का सिरदर्द है. इसे प्राइमरी हेडेक डिसॉर्डर कहा जाता है, जो लगभग 0.1 प्रतिशत आबादी को प्रभावित करता है. यह दर्द सिर के एक तरफ ही होता है. इस दौरान आंखों में आंसू आना, पलकों का नीचे झुक जाना और नाक जमने जैसा एहसास हो सकता है. आमतौर पर यह सिरदर्द 15 मिनट से तीन घंटे तक रोजाना एक हफ्ते तक या महीनों तक रह सकता है. अक्सर क्लस्टर सिरदर्द को लोग माइग्रेन, साइनस की समस्या, और तनाव से होने वाला सिरदर्द समझ लेते हैं. लेकिन ऐसा नहीं है. आपको डॉक्टर को ठीक से दिखाना चाहिए और फिर इसका इलाज करवाना चाहिए. इस सिरदर्द को सुसाइड सिरदर्द भी कहा जाता है क्योंकि इसमें इंसान को इतना दर्द होता है कि वो अपने आपको संभाल नहीं पाता है.

इसके अलग-अलग भाग होते हैं

 एपिसोडिक– यह क्लस्टर सिरदर्द 85 से 90 प्रतिशत लोगों को प्रभावित कर सकता है. इसमें मरीजों को हफ्तों से लेकर महीनों तक रोजाना अटैक का अनुभव होता है. फिर कुछ महीनों या वर्षों के लिए आराम मिलता है.

क्रॉनिक- क्लस्टर सिरदर्द के इस प्रकार से लगभग 15 से 20 प्रतिशत लोग प्रभावित होते हैं. इसमें मरीजों को एक वर्ष से अधिक समय तक चलने वाले सिर दर्द का अनुभव होता है. यह सिरदर्द बिना ठीक हुए लगातार भी हो सकता है और कुछ लोगों का सिरदर्द एक महीने ठीक होकर फिर होने लग जाता है

Headache

घरेलू उपाय से मिल सकता है आराम

चंदन का पेस्ट- क्लस्टर सिरदर्द को शांत करने में मदद करने के लिए चंदन के पेस्ट का उपयोग सदियों पुराना घरेलू उपाय है. यह ऑप्टिकल क्षेत्र में तनावग्रस्त तंत्रिका को शांत करके सिर के दर्द को कम करने में मदद करता है. इसके लिए थोड़े से पानी और आधा चम्मच चंदन पाउडर का प्रयोग करके पेस्ट बना लें. इस पेस्ट की एक पतली परत अपने माथे पर लगाएं. ठंडे पानी से धोने से पहले इसे 20 मिनट तक लगा रहने दें.  यह भी पढ़ें: Bhojpuri: आम्रपाली को छोड़ श्रुति राव संग दिनेश लाल हुए रोमांटिक, वायरल हुआ ‘पायल के घुंघरुआ’ गाना!

CLUSTER

हर्बल चाय- क्लस्टर सिरदर्द से छुटकारा पाने के लिए रोजाना एक कप कैमोमाइल चाय पीएं. इसमें एंटी इंफ्लेमेटरी, एंटीस्पास्मोडिक गुण होते हैं.

योगा करें– योग एक वैकल्पिक इलाज है, जिसे क्रॉनिक पेन को ठीक करने के लिए सदियों से किया जा रहा है. इस दर्द को योगा से भी ठीक किया जा सकता है.

एक्यूप्रेशर- क्लस्टर सिरदर्द से मुक्ति पाने के लिए एक्यूप्रेशर भी अच्छा नुस्खा है. इसमें उंगलियों और हाथों में मेन पॉइंट्स पर दबाव डाला जाता है. दबाव के साथ इन पॉइंट्स को उत्तेजित करने से दर्द में राहत मिलती है.

cluster

कल्सटर सिरदर्द के कारण

माना जाता है कि यह सिरदर्द शरीर के अचानक चेहरे से संबंधित तंत्रिका क्षेत्र यानी ट्राइजेमिनल नर्व में हिस्टमाइन या सेरोटोनिन रसायन को रिलीज करने से हो सकता है. हिस्टामाइन शरीर में एलर्जी की प्रतिक्रिया के दौरान बनने वाला रसायन है और सेरोटोनिन तंत्रिका कोशिकाओं द्वारा बनाया जाने वाला रसायन होता है. यह समस्या हाइपोथेलेमस के कारण भी हो सकती है, जो मस्तिष्क का एक छोटा सा हिस्सा होता है. क्लस्टर हेडेक जेनेटिक यानी आनुवंशिकता के कारण भी हो सकता है. इनके अलावा, क्लस्टर हेडेक को ट्रिगर यानी अचानक बढ़ाने व बीमारी शुरू करने वाले कारण कुछ इस प्रकार हैं.

शराब और सिगरेट का सेवन

ट्रेकिंग और हवाई यात्रा करना

सूरज की और अन्य कोई तेज रोशनी

अधिक शारीरिक गतिविधि

गर्मी

उच्च नाइट्रेट्स वाले खाद्य पदार्थ जैसे मीट

कुछ दवाएं

कोकीन का सेवन

इसके लक्षण क्या होते हैं?

तेज सिर दर्द के साथ जलन होना

चेहरे के एक तरफ गर्दन से सिर तक दर्द होना

आधे घंटे तक तेज दर्द होते समय 5 से 10 मिनट तक दर्द का और बढ़ना

क्लस्टर हेडेक के साथ एक साइड की आंख और नाक में भी दर्द हो रहा है, तो यह लक्षण भी नजर आ सकते हैं.

आंख के नीचे या आसपास सूजन होना

आंसू निकलना

आंखों का लाल होना

ड्रॉपी आईलिड (पलकों के ऊपरी हिस्से का नीचे को झुक जाना)

सिर दर्द जिस साइड हो रहा हो, उधर की नाक जमना

चेहरे का लाल होना और अत्यधिक पसीना आना

क्लस्टर सिरदर्द का इलाज

क्लस्टर सिरदर्द को इलाज से पूरी तरह से ठीक नहीं किया जा सकता है. इलाज के जरिए क्लस्टर हेडेक के केवल लक्षणों से राहत मिलती है. इसके लिए डॉक्टर कुछ इस तरह का उपचार कर सकते हैं.

ऑक्सीजन इनहेलेशन और ट्रिप्टन ड्रग्स- इस तरह की दवाओं का प्रयोग माइग्रेन का इलाज करने के लिए किया जाता है. इसे नाक स्प्रे या इंजेक्शन के रूप में दिया जा सकता है. इससे तेज क्लस्टर सिरदर्द से तुरंत राहत मिल सकती है.

नेजल स्प्रे – क्लस्टर हेडेक के दर्द की साइकिल को तोड़ने के लिए डॉक्टर कुछ नेजल स्प्रे दे सकते हैं, जो नाक और नथुने को सुन्न करके कुछ राहत दिला सकता है

एंटी-इंफ्लेमेटरी (स्टेरॉयड) दवाएं – क्लस्टर सिर दर्द से राहत पाने के लिए एंटी-इंफ्लेमेटरी दवाइयों का भी उपयोग किया जा सकता है. इसकी शुरूआत उच्च खुराक के साथ की जाती है. फिर धीरे-धीरे इसे 2 से 3 सप्ताह तक कम कर दिया जाता है.

सर्जिकल ट्रीटमेंट- अगर दवाओं से क्लस्टर सिरदर्द में आराम नहीं मिलता है, तो सर्जिकल उपचार की सलाह डॉक्टर दे सकते हैं. ऐसा ही एक उपचार है न्यू स्टिम्युलेटर.

यह भी पढ़ें: रिलीज से पहले ही अल्लू अर्जुन की फिल्म पुष्पा 2 ने की करोड़ो की कमाई, आरआरआर को भी छोड़ा पीछे

बॉलीवुड और टीवी की अन्य खबरों के लिए क्लिक करें:

Exclusive News, TV News और Bhojpuri News in Hindi के लिए देखें HindiRush । देश और दुन‍िया की सभी खबरों की ताजा अपडेट के ल‍िए जुड़िए हमारे FACEBOOK पेज से ।

Story Author: Tanvi Sood



    +91 9004241611
601, ड्यूरोलाइट हाउस, न्यू लिंक रोड, अंधेरी वेस्ट,मुंबई, महाराष्ट्र, इंडिया- 400053
    Tags: , , , ,

    Leave a Reply