अटल बिहार वाजपेयी और राजकुमारी कौल की संबंधों की असली कहानी

अटल बिहारी वाजपेयी और राजकुमारी कौल से चर्चा में रही दोस्ती

By   |     |   3,208 reads   |   0 comments
अटल बिहार वाजपेयी और राजकुमारी कौल की संबंधों की असली कहानी

अटल बिहारी वाजपेयी और राजकुमारी कौल से चर्चा में रही दोस्ती
अटल बिहारी वाजपेयी ने एक बार मज़ाक में ही कह दिया था कि, “मैं शादीशुदा नहीं हूँ, इसका मतलब ये नहीं कि मैं कुंआरा हूं|” उनके इस बयान के बाद तो जैसे जानकारों में खलबली मच गयी| वाजपेयीजी के इस बयान को उनके जीवन में आये प्रेम से जोड़कर देखा जाने लगा| दरअसल उन दिनों अटल जी और उनकी कॉलेज में दोस्त रही राजकुमारी कौल के रिश्ते ने सुर्खियां बटोरी थी| अब कौल इस दुनिया में नहीं है, लेकिन अटलजी-कौल का नाम समय-समय पर लिया जाता रहा है|
इन सब की शुरुआत कॉलेज के दिनों से हुई थी| राजकुमारी कौल और अटल बिहारी वाजपेयी ने एक साथ ग्वालियर के लक्ष्मीबाई कॉलेज में पढ़ाई की थी|  कॉलेज के दिनों में दोनों अच्छे दोस्त हुआ करते थे| हालाँकि अपनी पढ़ाई ख़त्म करने के बाद कौल का पूरा परिवार दिल्ली में आकर बस गया| उस दौरान अटल जी राजनीती में सक्रीय थे| उनका भी दिल्ली में आना जाना लगा रहता था| इसके बाद वो भी अधिकतर राजधानी में ही रहने लगे| लेकिन इनकी दोस्ती किसी रिश्ते में बदल पाती राजकुमारी कौल की शादी प्रोफेसर बीएन कौल से हो गई हालाँकि इसके बाद भी दोनों की दोस्ती बनी रही| अटलजी और राजकुमारी कौल की मुलाकातें होती रहीं| राजकुमारी के पति बीएन कौल की भी अटल बिहारी वाजपेयी के दोस्त बन गए| कई मौकों पर अटलजी दिल्ली में कुछ दिन उनके घर भी रूके थे|
बता दें दोनों का रिश्ता बहुत ही अलग था| इनके इस सम्बन्ध पर न तो कभी किसी राजनीतिक पार्टी ने और ना ही मीडिया ने कोई नेगेटिव रिपोर्टिंग की|  क्योंकि सभी अटलजी के प्रेम, करूणा और सद्बुद्धि को समझते थे |
अटल बिहारी वाजपेयी जब पीएम बने तो उनके सरकारी निवास पर राजकुमारी कौल अपनी बेटी नमिता और दामाद रंजन भट्टाचार्य के साथ रहा करती थी| वाजपेयी ने नमिता को दत्तक पुत्री का दर्जा दिया था| अटल जी की इस दोस्त  पर उनके पूरे परिवार की जिम्मेदारी थी|
हालाँकि दोनों के रिश्ते का असली सच कभी किसी के सामने नहीं आ पाया|

Leave a Reply