Exclusive: क्या सच में वैनिटी वैन में बंद हो गए थे ‘नाराज’ सौरभ शुक्ला? एक्टर ने बताई इस झगड़े की सच्चाई

बॉलीवुड के पॉपुलर एक्टर सौरभ शुक्ला ने फिल्म फैमिली ऑफ ठाकुरगंज (Family of Thakurganj) की शूटिंग के दौरान राइटर दिलीप शुक्ला के साथ बहस के दौरान गुस्सा होने के बाद अपने आप को 3 घंटे तक वैनिटी वैन में बंद कर लिया था। इस पर सौरभ शुक्ला ने पूरी सच्चाई बताई है।

Author   |     |     |     |   Updated 
Exclusive: क्या सच में वैनिटी वैन में बंद हो गए थे ‘नाराज’ सौरभ शुक्ला? एक्टर ने बताई इस झगड़े की सच्चाई
बॉलीवुड एक्टर सौरभ शुक्ला। (फोटोः हिंदी रश)

बॉलीवुड के पॉपुलर एक्टर सौरभ शुक्ला और जिम्मी शेरगिल स्टारर फैमिली ऑफ ठाकुरगंज (Family of Thakurganj) इस शुक्रवार यानी 19 जुलाई को रिलीज होने वाली है। फिल्म की शूटिंग के दौरान सौरभ शुक्ला के नाराज होने की एक खबर सामने आई थी, जिसके मुताबिक सौरभ शुक्ला ने गुस्सा होने के बाद अपने आप को 3 घंटे तक वैनिटी वैन में बंद कर लिया था। उनका बॉलीवुड के फेमस राइटर दिलीप शुक्ला से एक सीन को लेकर विवाद हो गया था।

सौरभ शुक्ला (Saurabh Shukla Interview) ने इस घटना की सच्चाई के बारे में विस्तार से बताया है। उन्होंने हिंदी रश डॉट कॉम से एक्सक्लूसिव बातचीत में कहा कि वह किसी से नाराज नहीं थे। वह पिछले 25 साल से बॉलीवुड इंडस्ट्री में हैं, लेकिन उनका कभी किसी से झगड़ा नहीं हुआ। उनका कहना है कि दिलीप शुक्ला बहुत अच्छे राइटर हैं, वह उन्हीं के वजह से फिल्म में भी हैं। सौरभ शुक्ला (Saurabh Shukla) ने कहा, ‘पहली बात में कैकेयी नहीं हूं जो किसी से लड़कर कोप भवन में बैठ जाऊं। मेर दिमाग अभी तक सशक्त है। वो सोचने और याद रखने में माहिर है। मेरे पास ऐसी कोई घटना नहीं है कि मेरा किसी से झगड़ा हुआ हो।’

इस मामले पर सौरभ शुक्ला ने आगे बताया कि…

दिलीप शुक्ला (Dilip Shukla) इस फिल्म के राइटर हैं और बहुत अच्छे राइटर हैं। उन्ही की राइटिंग की वजह से मैंने ये फिल्म साइन की थी। मैं उनकी कला की कद्र करता हूं। मेरा कोई उनसे कोई झगड़ा नहीं हुआ था। आप दिलीप शुक्ला से जाकर पूछिए, क्या उन्होंने कभी कहा की झगड़ा हुआ था। वो ऐसा नहीं कह रहे हैं। आपने कभी सुना झगड़ा मेरा झगड़ा होने पर मैं कोप भवन में जाकर बैठ सकता हूं। मेरी शक्ल देख कर लगता है कि मैं ऐसा कर सकता हूं।

सुनाया फिल्म का ये दमदार डायलॉग

इसके अलावा सौरभ शुक्ला ने फैमिली ऑफ ठाकुरगंज का एक फेमस डायलॉग सुनाया और उनके गुस्से की खबर लिखने वाले पत्रकार को समर्पित किया। उन्होंने कहा, ‘ये जिसने झूठी खबर छापी है, देखो जब जलेबी गरम गरम हो तो भक से खा नहीं लेनी चाहिए, वो क्या है स्वाद भी नहीं आता है और मुंह भी जल जाता है।’

जानिए क्या था पूरा माजरा

दरअसल, फिल्म फैमिली ऑफ ठाकुरगंज की शूटिंग के दौरान एक खबर सामने आई कि सौरभ शुक्ला और फिल्म के स्क्रिप्ट राइटर दिलीप शुक्ला के बीच एक सीन को लेकर बहस हो गई है। ये बहस इतनी बढ़ी की सौरभ शुक्ला गुस्सा हो गए और खुद को 3 घंटे तक वैनिटी वैन में बंद कर लिया। फिल्म की प्रोडक्शन टीम ने कड़ी मशक्कत के साथ सौरभ शुक्ला को मनाया, तब जाकर वह वैनिटी वैन से बाहर निकले और अपना फाइनल सीन शूट किया। दिलीप शुक्ला ने दबंग 3 (Dabangg 3)  जैसी फिल्म की स्क्रिप्ट राइटिंग भी की है। यह स्टोरी कई मीडिया प्लेटफॉर्म पर प्रमुखता से छपी थी।

जिमी शेरगिल और माही गिल के दमदार डायलॉग से भरपूर है फिल्म का ट्रेलर

वीडियो में देखिए राइटर से झगड़े के सवाल पर सौरभ शुक्ला ने क्या कहा…

Exclusive News, TV News और Bhojpuri News in Hindi के लिए देखें HindiRush । देश और दुन‍िया की सभी खबरों की ताजा अपडेट के ल‍िए जुड़िए हमारे FACEBOOK पेज से ।

Story Author: रमेश कुमार

रमेश कुमार
जाकिर हुसैन कॉलेज (डीयू) से बीए (हॉनर्स) पॉलिटिकल साइंस में डिग्री लेने के बाद रामजस कॉलेज में दाखिला लिया और डिपार्टमेंट ऑफ पॉलिटकल साइंस में पढ़ाई की। इसके बाद आईआईएमसी दिल्ली।

ramesh.kumar@hidirush.com     +91 9004241611
601, ड्यूरोलाइट हाउस, न्यू लिंक रोड, अंधेरी वेस्ट,मुंबई, महाराष्ट्र, इंडिया- 400053
Tags: ,

Leave a Reply