Exclusive: आयुष्मान की सफलता में कितना है पापा का रोल, बचपन में करते थे कैसे झोल, जानिए एक्टर की जुबानी

आयुष्मान खुराना (Ayushmann Khurrana) फिल्म 'ड्रीमगर्ल (Dream Girl Movie)'में नजर आने वाले हैं। उन्होंने बताया कि 14 साल की उम्र में वो गर्लफ्रेंड के पिता से लड़की बनकर बात करते थे। पढ़िए ये इंटरव्यू।

Author   |     |     |     |   Updated 
Exclusive: आयुष्मान की सफलता में कितना है पापा का रोल, बचपन में करते थे कैसे झोल, जानिए एक्टर की जुबानी
नुसरत भरूचा और आयुष्मान खुराना फिल्म ड्रीमगर्ल में साथ नजर आएंगे (फोटो: हिंदी रश)

आयुष्मान खुराना (Ayushmann Khurrana) बॉलीवुड का एक ऐसा नाम बन चुका है जिनसे हर डायरेक्टर जुड़ना चाहता है। किसी फिल्म में उनका होना मानों सफलता की गारंटी बन चुकी है। पिछले साल ‘बधाई हो (Badhai Ho)’ से लेकर ‘अंधाधुन (Andhadhun)’ समेत में उन्होंने कई बेहतरीन फिल्में दी हैं। अब वो जल्द ही अपनी अगली फिल्म ‘ड्रीमगर्ल (Dream Girl Movie)’ में एक अलग किरदार से लोगों का दिल एक बार फिर जीतने आ रहे हैं।

फिल्म ‘ड्रीमगर्ल (Dream Girl Release)’ में आयुष्मान खुराना लड़की के गेटअप में पूजा नाम के कैरेक्टर को निभाते दिखेंगे। इसका ट्रेलर लोगों को काफी पंसद आ रहा है और यकीनन ये फिल्म बॉक्स ऑफिस पर सफलता के झंड़े गाड़ेगी। हाल ही में आयुष्मान खुराना ने हिंदी रश डॉट कॉम के संपादक मुकेश कुमार गजेंद्र से एक्सक्लूसिव बातचीत की और अपनी फिल्म और लाइफ से जुड़ी कई मजेदार बातें बताई। आप भी पढ़िए उनका ये मजेदार इंटरव्यू।

सवाल- आप दोनों की फिल्म ड्रीमगर्ल आ रही है। मैंने इसका ट्रेलर देखा, जो बेहद ही शानदार है। इसमें आयुष्मान का एक नया ही अवतार देखने को मिल रहा है। पहली बार वो ऐसा किरदार कर रहे हैं। आयुष्मान आपको ये रोल मिला कैसे?

आयुष्मान खुराना- पता नहीं, राज शांडिल्य जो इस फिल्म के डायरेक्टर हैं उन्होंने क्या देखा। उन्होंने ‘कॉमेडी सर्कस’ और ‘कॉमेडी नाइट्स विद कपिल’ जैसे कई कॉमेडी शो लिखे हैं। उन्हें बड़ा शौक है लड़के को लड़की बनाने का। वैसे भी हमारे यहां रामलीला में लड़कियों के पात्र लड़के ही प्ले करते हैं और ऐसा लंबे अरसे से चला आ रहा है।

मेरा कैरेक्टर भी फिल्म में ऐसा ही है जहां मैं एक कॉल सेंटर में नौकरी मिलने पर लोगों से लड़की की आवाज में बात करता हूं। 4-5 लड़कों को उससे प्यार हो जाता है और वो कैसे इस सिचुएशन से बाहर निकलता है इसकी कहानी है।

सवाल- फिल्म की शूटिंग के दौरान जब आपको साड़ी पहनकर सोलह श्रृंगार करना पड़ता, उस वक्त आपके मन में क्या चलता था?

आयुष्मान खुराना- मेरे दिमाग में यहीं चलता था कि मैं दूसरों से ज्यादा खूबसूरत कैसे लगूं। मेरी पलकें कैसे लंबी दिखे। इसमें मेरी नुसरत ने काफी मदद की। राधे-राधे गाने की शूटिंग के दौरान उन्होंने बताया कि मुझे कैसे चलना चाहिए और कहा कि इसकी आदत डाल लो (हंसते हुए)।

सवाल- ड्रीम गर्ल के डायरेक्टर राज जी ने कहीं बताया कि इस फिल्म का आइडिया उनके कॉलेज में हुए किसी वाकये से संबंधित है। आयुष्मान आपके साथ कभी ऐसा हुआ है कि आपको लड़की बनकर किसी से बात करनी पड़ी हो? या किसी के साथ ऐसा प्रैंक किया हो आपने?

आयुष्मान खुराना- जब मैं 14 साल का था तब ऐसा किया था। इस वक्त उस उम्र से गुजरते हैं जब आप लड़की की आवाज में भी बोल लेते हैं। उस वक्त ऐसा होता था कि मैं अपनी गर्लफ्रेंड को कॉल करता था, तो जब उसके पापा कॉल रिसीव करते थे तब मैं लड़की की आवाज में बात करता था। वहां से चल रही है प्रैक्टिस।

सवाल- किसी फिल्म का चुनाव करते वक्त आप किन-किन बातों का ख्याल रखते हैं? मसलन स्क्रिप्ट, स्टारकास्ट, डायरेक्टर, पैसा या फिर कुछ और?

आयुष्मान खुराना- सबसे पहले स्क्रिप्ट होती है और फिर डायरेक्टर होता है। वैसे स्क्रिप्ट और डायरेक्टर समान लेवल पर होता है। इसके बाद स्टारकास्ट देखता हूं।

सवाल- आपके पिताजी एक बड़े ज्योतिषी है। कभी आप अपने प्रोफेशन में उनकी मदद लेते हैं?

आयुष्मान खुराना- करियर की शुरुआत में मैंने मदद ली थी। मेरा जर्नलिज्म का एग्जाम चल रहा था, तो मैंने सोचा एक साल बाद जाउंगा। लेकिन मेरे फादर ने कहा कि एक साल बाद जाओगे तो काम नहीं मिलेगा अभी जाओ। मैं एग्जाम खत्म होने के दूसरे दिन ही गया। मैं दिल्ली आ गया था और यहां दो साल तक था रेडियो जॉकी का काम किया।

एक दिन पापा का अचानक कॉल आया कि मुंबई चला जा। मेरे सहकर्मी हैरान हो गए कि यहां सबकुछ सही चला रहा है फिर क्यों जा रहा हूं। फिर मैं मुंबई चला गया। वैसे मैं कर्मा में भी यकीन करता हूं।

सवाल- आयुष्मान हाल ही में आपको नेशनल अवार्ड मिला है। ऐसे अवार्ड मिलने के बाद बतौर एक्टर खुद में क्या बदलाव देखते हैं। आपको लगता है कि अब आपकी जिम्मेदारी और ज्यादा बढ़ गई है।

आयुष्मान खुराना- कहीं ना कहीं ठहराव आया है। पहले काफी एक्साइटेड और चीजों को लेकर नर्वस हो जाता था। अब बुद्धिमत्ता आ गई है। स्क्रिप्ट चुनने को लेकर काफी सतर्क हो गया हूं। आप खुद भी चीजों को लेकर कॉन्फिडेंट नहीं होते हैं। हर दौर अलग होता है। जो आज चल रहा है 5 साल बाद वो ना चले। मैंने वक्त के साथ बदलना सीखा है।

बधाई हो’ में आयुष्मान खुराना की गर्लफ्रेंड थीं सान्या मल्होत्रा, फिल्म को नेशनल अवॉर्ड मिलने पर कही ये बात

देखिए आयुष्मान खुराना का ये एक्सक्लूसिव इंटरव्यू…

Exclusive News, TV News और Bhojpuri News in Hindi के लिए देखें HindiRush । देश और दुन‍िया की सभी खबरों की ताजा अपडेट के ल‍िए जुड़िए हमारे FACEBOOK पेज से ।

Story Author: जागृति प्रिया

जागृति प्रिया
मुझे एंटरटेंमेंट, लाइफस्टाइल, हेल्थ, ट्रेंड और ब्यूटी की खबरें लिखना पसंद है। पाठकों को इनसे जुड़ी खबरों से अवगत कराती हूं। मैंने पॉलिटिकल साइंस में ग्रेजुएशन करने के बाद माखनलाल यूनिवर्सिटी से मास्टर इन जर्नलिज्म किया है।

jagriti.priya@hindirush.com     +91 9004241611
601, ड्यूरोलाइट हाउस, न्यू लिंक रोड, अंधेरी वेस्ट,मुंबई, महाराष्ट्र, इंडिया- 400053
Tags: , , ,

Leave a Reply