Jivitputrika Vrat 2019: भोजपुरी सिंगर खुशबू उत्तम ने जितिया व्रत पर गाया खूबसूरत गाना, देखिए वीडियो

जितिया का व्रत पुत्र की दीर्घ आयु के लिए रखा जाता है। ऐसे में जितिया 2019 का भक्ति सॉन्ग रिलीज़ हो गया है। एल्बम का नाम पवन परब जितिया के (Pawan Parab Jitiya ke) है। गाने का नाम जुग जुग जिए मोर बबुआ दुलरुआ है।

Author   |     |     |     |   Updated 
Jivitputrika Vrat 2019: भोजपुरी सिंगर खुशबू उत्तम ने जितिया व्रत पर गाया खूबसूरत गाना, देखिए वीडियो
पवन परब जितिया के एल्बम (फोटो -एल्बम )

भारत देश में उपवास और व्रत करना भगवान की भक्ति और उपासना करने का तरीका है। भारत में कई लोग व्रत और उपवास अच्छे पति की कामना में  या पुत्र की इच्छा पूरी करने के लिए रखते हैं। लोगों की श्रद्धा है कि सच्चे मन से अगर वह उपवास रखेंगे तो उनकी मनोकामना जरूर पूरी होगी। कइयों की पूरी भी होती हैं। आने वाले रविवार को बहुत कठिन व्रत जितिया (Jitiya 2019) है।

जितिया का व्रत पुत्र की दीर्घ आयु के लिए रखा जाता है। ऐसे में जितिया 2019 का भक्ति सॉन्ग रिलीज़ हो गया है। एल्बम का नाम पवन परब जितिया के (Pawan Parab Jitiya ke) है। गाने का नाम जुग जुग जिए मोर बबुआ दुलरुआ है। इस सॉन्ग को यूट्यूब पर 2,399,969 से ज्यादा बार अब तक देखा जा चुका है। इस गाने के जरिए जितिया व्रत की महिमा का बखान किया गया है।

यहां देखें खुशबू उत्तम का सुपरहिट जितिया व्रत सॉन्ग… 

जितिया सॉन्ग जुग जुग जिए मोर बबुआ दुलरुआ  (Jug Jug Jiye Mor Babua Dularua) को आवाज सिंगर खुशबू (Khushboo Uttam) उत्तम ने आवाज दी हैं। गाने के बोल प्रवीन उत्तम ने दिए हैं,म्यूजिक चन्दन सिंह ने दिया हैं।सॉन्ग में जितिया के व्रत का महत्व के बारे में बताया गया हैं। जितिया का व्रत कैसे किया जाता हैं।वीडियो में महिलाएं अपने पुत्र के लम्बी उम्र के लिए पूजा करती हुई दिख रही है और गाना गाकर अपनी सखियों से कहती है कि ए हो सखी भूखे जितिया के परबिया अर्थात सखियों चलो जीतियाँ के व्रत रखने।खास बात आपको बता दे की जितिया का व्रत उत्तरप्रदेश में खासकर मनाया जाता हैं। गाने के बोल बड़े की अर्थपूर्ण है और भक्त इस भक्ति गाने को बहुत पसंद कर रहे हैं।

जितिया व्रत का महत्व

जितिया (Jitiya 2019) व्रत संतान की लम्बी उम्र और मंगल कामना के लिए किया जाता हैं। यह निर्जला व्रत होता हैं। इस व्रत में पूरा दिन और पूरी रात पानी नहीं पिया जाता। शाम को माताएं नदी के पास जाकर मिठाई ,फर और ज्योत से पुरे विधि विधान से पूजा करती है और कई किस्से कहानियां भी कहती हैं। दूसरे दिन भोर में उठकर स्नान करके जुतिया माता को धारण करके भीगे चने और पानी से व्रत को तोड़ती है।कहा जाता है जो स्त्री इस व्रत को पूरा कर लेती है। उनके पुत्र के साथ हमेशा मंगल होता है।

वीडियो में देखें रवि किशन ने ऐसे बनाई गणेश चतुर्थी…

Exclusive News, TV News और Bhojpuri News in Hindi के लिए देखें HindiRush । देश और दुन‍िया की सभी खबरों की ताजा अपडेट के ल‍िए जुड़िए हमारे FACEBOOK पेज से ।

Story Author: धर्मेंद्र दुबे

धर्मेंद्र दुबे
मेरा नाम धर्मेंद्र दुबे है। फिल्म जगत की खबरें आप तक पहुंचना मेरा काम है। अजय देवगन ने मेरे लिए कहा था, 'तुम एक अच्छे पत्रकार ही नहीं बल्कि एक अच्छे इंसान भी हो'।

dharmendra.dubey@hindirush.com     +91 9004241611
601, ड्यूरोलाइट हाउस, न्यू लिंक रोड, अंधेरी वेस्ट,मुंबई, महाराष्ट्र, इंडिया- 400053
Tags: , , ,

Leave a Reply