मनोज तिवारी दूसरी बार बनेंगे सांसद, दिल्ली की पूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित को 3 लाख से ज्यादा वोटों से हराया

दिल्ली बीजेपी के अध्यक्ष मनोज तिवारी (Manoj Tiwari) नॉर्थ ईस्ट लोकसभा क्षेत्र से दूसरी बार चुनाव लड़े और जीत गए। मनोज तिवारी  को 785262 वोट मिले।  उन्होंने कांग्रेस प्रत्याशी और दिल्ली की पूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित को 363969 वोटों से हराया। 

Author   |     |     |     |   Updated 
मनोज तिवारी दूसरी बार बनेंगे सांसद, दिल्ली की पूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित को 3 लाख से ज्यादा वोटों से हराया
मनोज तिवारी की तस्वीर (फोटो इंस्टाग्राम)

दिल्ली बीजेपी के अध्यक्ष मनोज तिवारी (Manoj Tiwari) नॉर्थ ईस्ट लोकसभा क्षेत्र से दूसरी बार चुनाव लड़े और जीत गए। मनोज तिवारी  को 785262 वोट मिले।  उन्होंने कांग्रेस प्रत्याशी और दिल्ली की पूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित को 363969 वोटों से हराया।  शिला दीक्षित को 421293 वोट मिले। जबकि दिल्ली की तीसरी बड़ी पार्टी आम आदमी पार्टी के प्रत्याशी दिलीप पांडेय  को 190586 वोट मिले।

मनोज तिवारी दूसरी बार दिल्ली की उत्तर पूर्व सीट सांसद बनने जा रहे हैं। इससे पहले साल 2014 में मनोज तिवारी ने 144084 वोट से जीत हासिल की थी। लोकसभा चुनाव में मनोज तिवारी की लड़ाई कांग्रेस (Congress) की शिला दीक्षित (Sheila Dikshit) से है। ऐसे में आइए एक सरसरी नजर डालते हैं मनोज तिवारी के फ़िल्मी करियर, पॉलटिकल करियर और व्यक्तिगत जीवन पर।

मनोज तिवारी (Manoj Tiwari Family) ने अपनी पोलिटिकल करियर समाजवादी पार्टी (Smajwadi Party) के साथ शुरू किया। साल 2009 में मनोज तिवारी ने मुलायम सिंह (Mulayam Singh Yadav) की सपा पार्टी से चुनाव भी लड़ा। मनोज तिवारी ने यूपी के गोरखपुर (Gorakhpur) जिले से बीजेपी प्रत्याशी आदित्य योगीनाथ (Aditya Yoginath) के सामने चुनाव लड़ा जिसमे उनकी करारी हार हुई।

योगी आदित्यनाथ से हारे पर बन गए दिल्ली बीजेपी के अध्यक्ष 

साल 2011 में मनोज तिवारी ने बीजेपी पार्टी ज्वाइन की। मनोज ने दिल्ली के रामलीला मैदान में हो रहे भूख हड़ताल को सपोर्ट किया। पटना जाकर शत्रुहन सिन्हा के आंदोलन को सपोर्ट किया। कई ऐसे काम किए जिनकी बदौलत इस स्टार ने नरेंद्र मोदी की पसंदीदा टीम में एंट्री ले ली। नरेंद्र मोदी ने मनोज तिवारी पर विश्वाश दिखाते हुए उन्हें राजधानी दिल्ली का बीजेपी अध्यक्ष बना दिया। तब से ही मनोज तिवारी बीजेपी पार्टी के एक तेज तर्रार नेता के रूप में उभरे हैं। साल 2014 में मनोज तिवारी ने आम आदमी पार्टी के उम्मीदवार आनंद कुमार को 1,44,084 की मार्जिन से हराया।

मनोज तिवारी की भजन गायकी से होती थी पहचान 

मनोज तिवारी ने देवी गीत गाकर अपने करियर की शुरुवात की। धीरे धीरे इनके भजन और गीतों को इतना पसंद किया जाने लगा कि मनोज तिवारी ने साल 2003 में ससुरा बड़ा पैसा वाला फिल्म से भोजपुरी की दुनिया में डेब्यू किया। ये फिल्म सुपरहिट रही। इसके बाद मनोज तिवारी के पास फिल्मों की कतार लग गई।

मनोज तिवारी ने दरोगा बाबू लव यू, बंधन टूटे ससुरा बड़ा पैसावाला, दामाद जी, भोजपुरिया डॉन, धरती कहे पुकार के… जैसी सुपरहिट फ़िल्में इंडस्ट्री को दी। मनोज तिवारी ने हिंदी फिल्मों में भी गाना गाया। इसमें से उनका जिया हो बिहार के लाला गाना बहुत पसंद किया गया। इसके अलावा अभिनेता ने कई रियालिटी शो में भी हिस्सा लिया। जिनमे बिग बॉस का नाम शामिल है। मनोज तिवारी ने भारत की शान सिंगिंग स्टार, सुर संग्राम, नहले पे दहला जैसे शो को होस्ट भी किया।

बिहार के छोटे से गावं में जन्मे हैं मनोज तिवारी 

मनोज तिवारी  (Manoj Tiwari) का जन्म 1 फरवरी 1971 में बिहार के एक छोटे से गांव अतरवालिया में हुआ था। मनोज तिवारी के पिता का नाम है चंद्रमोहन तिवारी और माता जी का नाम है ललिता देवी। मनोज तिवारी ने अपनी पहली पत्नी रानी से तलाक ले लिया है। इनकी एक बेटी है। बचपन से ही मनोज तिवारी को क्रिकेट खेलने का शौक था।

मनोज तिवारी के साथ रानी चटर्जी का डील इस वीडियो में देखें…

Exclusive News, TV News और Bhojpuri News in Hindi के लिए देखें HindiRush । देश और दुन‍िया की सभी खबरों की ताजा अपडेट के ल‍िए जुड़िए हमारे FACEBOOK पेज से ।

Story Author: धर्मेंद्र दुबे

धर्मेंद्र दुबे
मेरा नाम धर्मेंद्र दुबे है। फिल्म जगत की खबरें आप तक पहुंचना मेरा काम है। अजय देवगन ने मेरे लिए कहा था, 'तुम एक अच्छे पत्रकार ही नहीं बल्कि एक अच्छे इंसान भी हो'।

dharmendra.dubey@hindirush.com     +91 9004241611
601, ड्यूरोलाइट हाउस, न्यू लिंक रोड, अंधेरी वेस्ट,मुंबई, महाराष्ट्र, इंडिया- 400053
Tags: , , , , , ,

Leave a Reply